Asianet News Hindi

भारत ने दाऊद इब्राहिम, हाफिज सईद और जाकिर-उर-रहमान लखवी और मसूद अजहर को आतंकवादी घोषित किया

भारत के मोस्ट वांटेड आतंकी दाऊद इब्राहिम, हाफिज सईद और जाकिर-उर-रहमान लखवी और मसूद अजहर को केंद्र सरकार ने नए आतंकवाद विरोधी कानून (UAPA) के तहत आतंकवादी घोषित किया है। इन चार आतंकियो के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस भी जारी किया गया है।

India declared Dawood, Hafiz, Masood Azhar as terrorists
Author
New Delhi, First Published Sep 4, 2019, 7:26 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. भारत के मोस्ट वांटेड आतंकी दाऊद इब्राहिम, हाफिज सईद और जाकिर-उर-रहमान लखवी और मसूद अजहर को केंद्र सरकार ने नए आतंकवाद विरोधी कानून के तहत आतंकवादी घोषित किया है। इन चार आतंकियो के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस भी जारी किया गया है।

पिछले महीने पास हुआ था बिल
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पिछले महीने UAPA बिल को मंजूरी दी थी। इस बिल के पास होने के बाद अगर किसी व्यक्ति पर आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने का शक है तो उसे आतंकवादी घोषित किया जा सकता है। इस कानून के तहत आतंकी की संपत्तियां जब्त की जा सकती हैं। बता दें कि पहले इस बिल के तहत उनके संगठनों को आतंकी घोषित किया जाता था। लेकिन संशोधित के बाद व्यक्ति को भी आतंकवादी घोषित किया जा सकता है। 

- मसूद अजहर के खिलाफ कई आतंकी वारदातों को अंजाम देने का आरोप है, जिसमें 2001 में जम्मू-कश्मीर विधानसभा परिसर पर हमला, 2001 में संसद पर हमला, 2016 में पठानकोट एयरबेस पर हमला, 2017 में बीएसएफ कैंप पर हमला,  14 फरवरी को पुलवामा में एक सीआरपीएफ बस में विस्फोट शामिल है। 

- सईद के खिलाफ मामले पर गृह मंत्रालय ने कहा कि वह 2000 में लाल किले सहित विभिन्न हमलों में शामिल था। रामपुर (उत्तर प्रदेश) में सीआरपीएफ कैंप, 2008 में मुंबई हमला(जिसमें 166 लोग मारे गए थे), 2015 में जम्मू-कश्मीर के उधमपुर में बीएसएफ के काफिले पर हमले का आरोप है। 

- लखवी को लेकर मंत्रालय ने कहा कि वह 2000 में लाल किला हमले, 2008 में रामपुर सीआरपीएफ कैंप, 2008 में मुंबई और जम्मू-कश्मीर के उधमपुर में बीएसएफ के काफिले पर हमला करने सहित विभिन्न हमलों में शामिल था।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios