Asianet News HindiAsianet News Hindi

मालदीव को फिर से वीजा छूट देने पर भारत राजी, जानिए कब से यात्रा करने की मिली अनुमति, जताया मोदी सरकार का आभार

मालदीव (Maldives) और भारत (India) ने दिसंबर 2018 में वीजा छूट समझौते (Visa Free Agreement) पर हस्ताक्षर किए थे। हालांकि, कुछ ही समय बाद कोरोनावायरस (coronavirus) की वजह से दोनों देशों ने यात्राओं पर प्रतिबंध (Ban) लगा दिया। अब फिर से यात्रा करने की छूट देने पर सहमति जता दी गई है।

Indian government agreed to restart 2018 Visa Free Agreement with Maldives from 15 October
Author
New Delhi, First Published Oct 10, 2021, 8:30 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। मालदीव वासियों के लिए गुड न्यूज है। भारत सरकार (Indian Government) 15 अक्टूबर से मालदीव के साथ 2018 वीजा छूट समझौते को फिर से शुरू करने पर राजी हो गया है। मालदीव के विदेश मंत्री अब्दुल्ला शाहिद (Foreign Minister Abdullah Shahid) ने रविवार को इस संबंध में ट्वीट कर जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कोरोनोवायरस (कोविड -19) के कारण समझौते को अस्थायी रूप से सस्पेंड (Temporarily Suspended) कर दिया गया था। भारत ने मालदीव समेत कई देशों की यात्राओं पर रोक लगाई थी। 

शाहिद ने ट्वीट कर लिखा- खुशी है कि भारत, दिसंबर 2018 वीजा छूट समझौते को फिर से शुरू करने के लिए सहमत हो गया है, जिसे अस्थायी रूप से सस्पेंड कर दिया गया था। 15 अक्टूबर 2021 से मालदीव के नागरिकों को पर्यटन, चिकित्सा और व्यावसायिक उद्देश्यों के लिए वीजा आवश्यकताओं से छूट दी जाएगी। उन्होंने समझौते को फिर से शुरू करने के मालदीव सरकार के अनुरोध पर विचार करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री एस जयशंकर को भी धन्यवाद दिया। दूसरी ओर मालदीव जुलाई 2020 से पर्यटकों के लिए खुला है। मालदीव पहला देश होगा, जिसे कोरोना प्रतिबंधों के बाद से वीजा-मुक्त यात्रा पर सहमति दी गई। भारत ने 23 मार्च 2020 को सभी देशों की यात्रा पर प्रतिबंध लगाया था।

 

जानिए दिसंबर 2018 वीजा छूट समझौता...
2018 वीजा छूट समझौता मालदीव के नागरिकों के लिए पर्यटन, व्यवसाय, शिक्षा और चिकित्सा उद्देश्यों के लिए भारत आने की यात्रा को आसान बनाता है। मालवीय के लोगों को 90 दिनों की अवधि के लिए किसी वीजा की जरूरत नहीं होगी। यहां 15 दिनों के भीतर वर्क परमिट भी देता है और वीजा नियमों को आसान बनाता है। उनके वीजा शुल्क का भुगतान उनके नियोक्ताओं द्वारा किया जाता है। दिसंबर 2018 में मालदीव के राष्ट्रपति इबू सोलिह की यात्रा के दौरान समझौते पर हस्ताक्षर किए गए थे।

कभी समुद्र के अंदर भाला फेंकते, तो कभी शानदार व्यू का मजा लेते नजर आए गोल्डन ब्वॉय नीरज चोपड़ा, देखें फोटो

15 अक्टूबर से भारत घूमने आ सकेंगे विदेशी पर्यटक, मार्च 2020 से बैन थी यात्राएं
यह फैसला तब लिया गया है, जब भारत में एक साल तक प्रतिबंध जारी रहने के बाद 15 अक्टूबर से पर्यटकों के लिए टूरिस्ट पैलेस खोले जाने की तैयारी की जा रही है। घरेलू पर्यटन उद्योग कोरोना की दो लहरों से बुरी तरह से प्रभावित हुआ है। बता दें कि मार्च 2020 से ही इंटरनेशनल वीजा और यात्रा पर बैन लगा था और कोरोना से हालात में सुधार को देखते हुए इसमें ढील दी जा रही है। गृह मंत्रालय ने चार्टर्ड विमान से भारत आने वाले विदेशी पर्यटकों को 15 अक्टूबर 2021 से नया पर्यटक वीजा जारी करने का निर्णय किया है। इसमें कहा गया है कि चार्टर्ड विमान के अलावा अन्य विमानों से भारत आने वाले विदेशी पर्यटकों को 15 नवंबर 2021 से पर्यटन वीजा जारी किया जाएगा।

Sara Ali khan ने मालदीव के बीच पर दिखाया बोल्ड अवतार, आपको भी बैचेन कर देंगीं ये तस्वीरें

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios