Asianet News HindiAsianet News Hindi

जनरल सुलेमानी के जनाजे में भगदड़; 35 लोगों की मौत, 48 जख्मी; अंतिम विदाई देने जुटे थे लाखों लोग

सैन्य कमांडर जनरल कासिम सुलेमानी की मौत के बाद ईरान बौखलाया हुआ है। ईरान की संसद ने मंगलवार को एक विधेयक पारित कर सभी अमेरिकी सैन्य बलों को आतंकी घोषित कर दिया।

Iran designates all US forces terrorists for killing general KPP
Author
Tehran, First Published Jan 7, 2020, 3:20 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

तेहरान.  सैन्य कमांडर जनरल कासिम सुलेमानी की शवयात्रा में भगदड़ मच गई। इस दौरान 35 लोगों की मौत हो गई। वहीं, 48 लोग जख्मी हुए हैं। यह जानकारी समाचार एजेंसी एपी ने ईरान की सरकारी न्यूज चैनल के हवाले से दी। सुलेमानी का शव आज उनके पैतृक गांव ले जाया गया था। यहां जनाजे में लाखों लोग जुटे थे। 

Iran designates all US forces terrorists for killing general KPP

इससे पहले ईरान की संसद ने मंगलवार को एक विधेयक पारित कर सभी अमेरिकी सैन्य बलों को आतंकी घोषित कर दिया। गुरुवार को अमेरिका ने बगदाद एयरपोर्ट के बाहर एयरस्ट्राइक की थी। इसमें ईरान के कुद्स फोर्स के प्रमुख कासिम सुलेमानी समेत 8 लोग मारे गए थे। ईरान में सोमवार को सुलेमानी को अंतिम विदाई दी गई। इस दौरान लाखों की संख्या में लोग सड़कों पर उतरे।

ट्रम्प के बयान से अमेरिका ने बनाई दूरी 
उधर, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के ईरान के सांस्कृतिक स्थलों को निशाना बनाने वाले बयान से सोमवार को अमेरिका ने दूरी बना ली। रक्षा मंत्री मार्क एस्पर ने कहा कि अमेरिका ''सैन्य संघर्ष के नियमों का पालन करेगा।'' उनसे पूछा गया कि क्या इसका मतलब यह होगा कि सांस्कृतिक स्थलों को निशाना नहीं बनाया जाएगा तो इस पर एस्पर ने कहा, सैन्य संघर्ष का यही नियम है।

ट्रम्प ने सांस्कृतिक स्थलों को निशाना बनाने की बात कही थी
ट्रम्प ने शनिवार को एक ट्वीट में सांस्कृतिक स्थलों को निशाना बनाने की ओर संकेत दिया था और इसके अगले ही दिन संवाददाताओं से बातचीत में यही बात दोहराई थी। उन्होंने शनिवार को ट्वीट करके चेतावनी दी थी कि यदि ईरान अमेरिकी जवानों या सम्पत्ति पर हमला करता है तो अमेरिका 52 ईरानी स्थलों को निशाना बनाएगा और जोरदार हमला करेगा।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios