Asianet News HindiAsianet News Hindi

इंसानों को नरभक्षी बना रहे कांगो के उग्रवादी, महिला बोली- उग्रवादी ने आदमी का गला काटा, आंत निकाल कहा- खाओ इसे

कांगो के उग्रवादियों ने एक महिला को अगवा कर लिया। उसके साथ बार-बार रेप किया गया। इसके साथ ही उसे इंसानी मांस पकाने और खाने के लिए विवश किया गया।

Kidnapped woman forced to cook eat human flesh in Congo rights group tells UN vva
Author
United Nations Headquarters, First Published Jun 30, 2022, 3:53 PM IST

संयुक्त राष्ट्र। कांगो के उग्रवादी इंसानों को नरभक्षी बना रहे हैं। वे कैदियों को इंसानी मांस खाने को मजबूर करते हैं। उग्रवादियों के कैद में रही एक महिला ने रोंगटे खड़े कर देने वाली खौफनाक कहानी सुनाई है। उग्रवादियों ने उसके सामने एक आदमी का गला काट दिया और उसका आंत निकालकर कहा कि पकाओ। महिला को उग्रवादियों ने इंसानी मांस खाने के लिए मजबूर किया।

कांगो के अधिकार समूह ने बुधवार को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद को उग्रवादियों के कैद में रही एक महिला की कहानी बताई। उस महिला को उग्रवादी संगठनों ने दो बार अगवा किया था। इस दौरान उग्रवादियों ने महिला के साथ बार-बार रेप किया और उसे इंसानी मांस पकाने और खाने के लिए मजबूर किया।

उग्रवादियों ने महिला से किया रेप
महिला अधिकार समूह SOFEPADI की अध्यक्ष जूलिएन लुसेंग ने 15 सदस्य वाले काउंसिल को कांगो की उस महिला पर हुए अत्याचार की कहानी सुनाई। लुसेंग ने कहा कि महिला को CODECO के उग्रवादियों ने अगवा कर लिया था। उग्रवादियों ने उसके परिवार के एक व्यक्ति को अगवा किया था। महिला उसे छुड़ाने के लिए फिरौती की रकम लेकर गई थी तभी उग्रवादियों ने उसे अगवा कर लिया। उग्रवादियों ने महिला के साथ बार-बार रेप किया और उसे शारीरिक रूप से प्रताड़ित किया।

अंतड़ियों निकाल कहा- पकाओ
लुसेंग ने कहा कि महिला के सामने उग्रवादी ने एक आदमी का गला काट दिया। इसके बाद उसने अंतड़ियों को निकाला और महिला को देकर कहा कि इसे पकाओ। खाना बनाने के लिए वे लोग पानी के दो बर्तन ले आए। महिला ने उग्रवादियों के कहे अनुसार इंसानी मांस पकाया। इसके बाद सभी कैदियों को इंसानी मांस खिलाया गया।

लुसेंग ने कहा कि कुछ दिनों बाद उग्रवादियों ने उस महिला को रिहा कर दिया। उग्रवादियों के कैद से मुक्त होने के बाद महिला घर लौटने की कोशिश कर रही थी तभी उसे दूसरे उग्रवादी समूह के लोगों ने अगवा कर लिया। इस समूह के उग्रवादियों ने भी महिला के साथ बार-बार रेप किया और उसे इंसानी मांस पकाने और खाने के लिए कहा। महिला किसी तरह उग्रवादियों के चंगुल से निकल भागने में कामयाब हुई। 

कांगो में चल रहा गृहयुद्ध 
बता दें कि कांगो में गृहयुद्ध चल रहा है। यहां सरकार और विद्रोही समूहों के बीच लड़ाई हो रही है। CODECO कई मिलिशिया में से एक है जो लंबे समय से कांगो के खनिज-समृद्ध पूर्व में जमीन और संसाधनों पर अधिकार के लिए लड़ रहा है। कांगो में जारी गृहयुद्ध के चलते पिछले एक दशक में हजारों लोगों की मौत हुई है लाखों लोग विस्थापित हुए हैं। कांगो की सेना मई के अंत से M23 विद्रोही समूह के साथ भीषण लड़ाई लड़ रही है। M23 विद्रोही समूह 2012-2013 के विद्रोह के बाद से निरंतर आक्रमण कर रहा है। इसने देश के विशाल क्षेत्र पर कब्जा कर लिया है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios