Asianet News Hindi

पाकिस्तानी पीएम इमरान का विवादित बयानः पुरुष रोबोट नहीं है, महिलाएं कम कपड़ें पहनेंगी तो नीयत बिगड़ेगी

इमरान खान का महिलाओं के कपड़ों पर किए गए कमेंट पर सोशल मीडिया पर उनके खिलाफ आलोचना का बाढ़ सा आ गया है। पाकिस्तान में भी विपक्ष से लेकर सामाजिक संगठन उनके बेहद संकीर्ण नजरिए की आलोचना कर रहा है। 

Pakistan PM Imran Khan conservative statement on women clothes, everyone criticising DHA
Author
Islamabad, First Published Jun 21, 2021, 5:22 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

इस्लामाबाद। महिलाओं को लेकर अपने तंग नजरिए की वजह से एक बार फिर पाकिस्तान में आलोचना के शिकार हो रहे हैं। एक टीवी इंटरव्यू में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पूर्व क्रिकेटर इमरान खान ने कहा कि महिलाओं पर हिंसा बढ़ने की वजह उनके कपड़े हैं। अगर वह कम कपड़े पहनेंगी तो पुरुषों की नीयत बिगड़ेगी ही, अगर वह रोबोट नहीं है तो। यह एक सामान्य बात है। उन्होंने महिलाओं को नसीहत दे डाली कि हमारे कल्चर में जो कपड़े मान्य हैं वह हर जगह मान्य होने चाहिए। 

यह भी पढ़ेंः ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी हमेशा काली पगड़ी क्यों बांधते? अमेरिका लगा चुका है रईसी पर प्रतिबंध

इमरान के कमेंट के बाद सोशल मीडिया से विपक्ष तक कर रहा आलोचना

इमरान खान का महिलाओं के कपड़ों पर किए गए कमेंट पर सोशल मीडिया पर उनके खिलाफ आलोचना का बाढ़ सा आ गया है। पाकिस्तान में भी विपक्ष से लेकर सामाजिक संगठन उनके बेहद संकीर्ण नजरिए की आलोचना कर रहा है। 
इंटरनेशनल कमिशन आफ जूरिस्ट्स की लीगल एडवाइजर रीमा ओमर ने पीएम इमरान खान की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि वह पीड़ितों को ही सेक्सुअल वायलेंस के लिए ब्लेम कर रहे हैं। औरत के चुस्त कपड़े पहनने से कोई किसी का रेप कर देने वाला बयान महिलाओं को ही अपराधी बनाने वाला है।

यह भी पढ़ेंः गन कल्चर छोड़े जम्मू-कश्मीर के युवा, मुख्यधारा में लौटे नहीं तो अंजाम बुरा होगाः मेजर जनरल साही

अप्रैल में भी इमरान महिलाओं को लेकर बयान दे चुके हैं

बीते अप्रैल में ही एक लाइव टीवी शो में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने टीवी पर अश्लीलता को देश में रेप या छेड़खानी जैसी घटनाओं को जिम्मेदार ठहराते हुए महिलाओं को पर्दा में रहने की नसीहत दे दी थी। उन्होंने कहा कि महिलाओं को पर्दा में रहना चाहिए, अगर पुरुष उसे देखेगा तो वह उत्तेजित होगा। हर किसी के पास खुद पर कंट्रोल करने की इच्छाशक्ति नहीं होती है। 

पाकिस्तान में 11 रेप हर दिन

पाकिस्तान में नवम्बर 2020 में रेप की घटनाओं में बेतहाशा बढ़ोतरी हुई थी। 11 रेप केस रोज दर्ज किए गए थे। बीते छह सालों में बाइस हजार से अधिक रेप केस पाकिस्तान में दर्ज किए गए हैं। अभी तक केवल 77 लोगों को सजा हो सकी है। 

यह भी पढ़ेंः पंजाब के लड़के की कहानी पढ़ेंगे अमेरिकी बच्चे, अमेरिका ने सिलेबस में किया शामिल

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios