वाशिंगटन. राष्ट्रपति ट्रंप ने कोरोना महामारी को लेकर भारत पर निशाना साधा है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि बड़े देशों की तुलना में अमेरिका कोविड-19 वैश्विक महामारी के खिलाफ बहुत अच्छा कर रहा है जबकि भारत इस बीमारी से लड़ने में जबर्दस्त समस्या का सामना कर रहा है और चीन में भी संक्रमण के मामलों में जबर्दस्त उछाल देखने को मिल रहा है। 

भारत और चीन में क्या है कोरोना की स्थिति?
भारत में एक दिन में 52,050 मामले सामने आने के बाद देश में कोविड-19 के मरीजों की संख्या 18,55,745 हो गई। वहीं, चीन ने मंगलवार को देश में संक्रमण के 36 नए माामले सामने की जानकारी दी जो एक दिन पहले के 43 मामलों की तुलना में कम थे। देश में 29 जुलाई को तीन महीने में पहली बार कोविड-19 के 100 से अधिक मामले सामने आए थे जिसके बाद यहां संक्रमण के दूसरे दौर को लेकर भय उत्पन्न हो गया था।

"अमेरिका में कोरोना के खिलाफ अच्छी लड़ाई लड़ी"
ट्रंप ने , मुझे लगता है कि हम बहुत अच्छा कर रहे हैं। मेरे विचार में हमने किसी भी राष्ट्र जितना अच्छा किया है। अगर आप सचमुच देखें कि क्या कुछ चल रहा है, खासकर इन नये मामलों के सामने आने और उन देशों के संबंध में, जिनके बारे में बात की जा रही थी कि उन्होंने इसे नियंत्रित कर लिया है। उन्होंने कहा कि बड़े देशों की तुलना में अमेरिका कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में बहुत अच्छा कर रहा है।

भारत और चीन की तुलना में बड़ा है अमेरिका
उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा, यह न भूलें कि हम भारत और चीन के अलावा कई देशों से बहुत बड़े हैं। चीन में बड़े पैमाने पर संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। भारत में जबर्दस्त समस्या है। अन्य देशों में समस्याएं हैं।

- ट्रंप ने कहा, मैंने ये सब खबरों में गौर किया है। किसी भी खबर में मैं दूसरे देशों के बारे में नहीं पढ़ता हूं। आप देख रहे हैं कि दूसरे देशों में कितने बड़े पैमाने पर मामले बढ़ रह हैं, उन देशों मे, जिन्होंने सोचा था कि वहां यह खत्म हो गया होगा। जैसा कि हमने सोचा था कि फ्लोरिडा में हम इससे उबर चुके हैं और अचानक से वह फिर लौट आया। संक्रमण जरूर लौटा है।

अमेरिका में कोरोना से संक्रमित
अमेरिका इस वैश्विक महामारी से सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाला देश है जहां संक्रमण के 47 लाख से ज्यादा मामले हैं और इस बीमारी से 1,55,000 से अधिक लोगों की मौत हुई है। ट्रंप ने कहा कि अमेरिका ने अब तक छह करोड़ से ज्यादा लोगों की कोरोना संक्रमण की जांच की है।

राष्ट्रपति ने कहा, कोई भी अन्य देश इसके करीब भी नहीं है। हमने छह करोड़ लोगों की जांच की है- कई मामलों में यानि लगभग 50 प्रतिशत मामलों में त्वरित जांच की है। यानि पांच से15-20 मिनट में होने वाली जांच, जहां आपको तुरंत परिणाम मिल जाते हैं। किसी के पास ऐसी जांच किट नहीं है। और मेरे विचार में हम बहुत बेहतर कर रहे हैं।