Asianet News Hindi

कोरोना से पस्त अमेरिका ने मोदी से लगाई गुहार, मांगी इस दवा की खेप, ताकि कर सके पॉजिटिव मरीजों का इलाज

कोरोना वायरस से भयंकर तबाही के मुहाने पर खड़े अमेरिका ने  भारत से मदद की गुहार लगाई है। शनिवार को पीएम मोदी से बात के बाद ट्रंप ने कहा कि हमने संक्रमितों के बेहतर इलाज के लिए भारत से हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा की खेप मांगी है। यदि भारत यह दवा भेज देता है तो हम उसके आभारी रहेंगे। 
 

Trump said i have requested modi to send a consignment of hydroxychloroquine medicine for fight against covid19
Author
Washington D.C., First Published Apr 5, 2020, 9:53 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

वाशिंगटन. कोरोना वायरस महामारी का दंश झेल रहे अमेरिका का बुरा हाल हो गया है। जिस प्रकार से लगातार मौतों का आंकड़ा बढ़ रहा है उससे साफ हो रहा कि अमेरिका भयंकर तबाही के मुहाने पर खड़ा है। इन सब के बीच अमेरिका की नजरें अब मदद की आस में भारत पर टिकी हैं। इसी को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और पीएम मोदी की बीच शनिवार शाम फोन पर बात हुई। इस बातचीत में कोरोना से सामूहिक रूप से लड़ने पर चर्चा हुई। इस दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति ने पीएम मोदी से हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन (Hydroxychloroquine) टैबलेट की खेप भेजने का आग्रह किया। हाइड्रोक्लोक्वीन टैबलेट का इस्तेमाल कोरोना के मरीजों के इलाज में होता है।

कोरोना वायरस टास्क फोर्स से जुड़ी प्रेस ब्रीफिंग में ट्रंप ने मोदी के साथ हुई बातचीत साझा करते हुए कहा, 'आज मैंने पीएम मोदी के साथ फोन पर हुई बातचीत में रोके गए Hydroxychloroquine टैबलेट की खेप को जारी करने का आग्रह किया।' पीएम मोदी से Hydroxychloroquine टैबलेट भेजने के आग्रह की जानकारी देते हुए ट्रंप ने यहां तक कह दिया कि वह भी इस टैबलेट का सेवन करेंगे। उन्होंने कहा, मैं भी इसे ले सकता हूं, इसके लिए मुझे अपने डॉक्टर्स से बात करनी होगी।'

भारत ऑडर्र भेजे तो हम आभारी: ट्रंप

ट्रंप ने आगे कहा, 'भारत भारी मात्रा में इस दवा का प्रॉडक्शन करता है। उन्हें अपने लोगों के लिए भी इसकी जरूरत पड़ेगी। वहां की जनसंख्या 1 अरब से ज्यादा है। मैंने उनसे कहा है कि अगर वो हमारे ऑर्डर को भेज दें तो मैं आभारी रहूंगा।' उधर अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो और भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर के बीच भी बातचीत की खबर है। दोनों के बीच बातचीत में कोरोना वायरस लड़ने पर चर्चा हुई।

पीएम मोदी ने दी थी बातचीत की जानकारी

इससे पहले पीएम मोदी ने शनिवार को खुद ही अमेरिकी राष्ट्रपति के साथ हुई बाचतीत की जानकारी दी थी। पीएम ने ट्रंप से हुई चर्चा की जानकारी देते हए ट्वीट किया था, 'राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से टेलिफोन पर विस्तार से चर्चा हुई। हमारी चर्चा अच्छी रही और हम कोरोना वायरस के खिलाफ भारत-अमेरिका साझीदारी की पूर्ण ताकत का इस्तेमाल करने पर सहमत हुए।'

अमेरिका में कोरोना से अब तक 8 हजार मौतें 

अमेरिका में शनिवार रात 12 बजे तक मौतों का आंकड़ा 8 हजार 157 हो गया। कुल संक्रमितों का आंकड़ा तीन लाख से भी ज्यादा हो गया है। शनिवार को 12 हजार 653 नए मामले सामने आए। इसी दौरान 647 संक्रमितों की मौत भी हुई। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अमेरिका में जनवरी की शुरुआत से मार्च के आखिर तक करीब 4 लाख 30 हजार यात्री चीन से अमेरिका आए। तब तक निमोनिया जैसे लक्षण कुछ यात्रियों में सामने आने लगे थे। पिछले दो महीने में 40 हजार पैसेंजर्स चीन से सीधे अमेरिका आए। 

जिसके बाद सरकार ने यात्रा पर प्रतिबंध लागू किए। हालांकि इस दौरान भी चीन से अमेरिकी या वो यात्री यहां आए जिन्हें प्रतिबंधों से अलग रखा गया था। ऐसी कुल 279 फ्लाइट्स अमेरिका पहुंचीं। पिछले हफ्ते तक यह सिलसिला जारी था। एक आंकड़े के मुताबिक, अमेरिका आने वाले कम से कम 25 फीसदी यात्रियों में उस वक्त कोरोना संक्रमण के लक्षण नहीं थे।

भारत में कोरोना की स्थिति

भारत में भी कोरोना का संकट गहराता जा रहा है। भारत में संक्रमित मरीजों की संख्या 3600 के पार पहुंच गई है। वहीं, संक्रमित मरीजों के मौत का आंकड़ा 100 के करीब पहुंच गया है। भारत के 29 राज्य कोरोना से संक्रमित हैं। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक भारत में 30 प्रतिशक केस तब्लीगी जमात की वजह से बढ़े हैं। 

दुनिया के 195 से अधिक देश प्रभावित 

दुनिया के 195 से अधिक देश कोरोना से प्रभावित हैं। जहां 12 लाख से अधिक लोग संक्रमित हैं तो वहीं मरने वालों का आंकड़ा 64 हजार के पहुंच गया है। स्पेन में संक्रमित मरीजों की संख्या 1 लाख 26 हजार 168 हो गई है। जबकि मरने वालों की संख्या 11 हजार 947 हो गई है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios