Asianet News Hindi

कोरोना के आगे बेबस हुआ अमेरिका, ट्रंप की चेतावनी- संक्रमण फैलाने का दोषी मिला चीन तो भुगतना होगा अंजाम

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन को चेतावनी देते हुए कहा है कि यदि वो कोरोना वायरस के संक्रमण जान-बूझकर फैलाने का जिम्मेदार पाया जाता है तो नतीजे भुगतने के लिए तैयार रहे। यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 7 लाख 38 हजार के पार पहुंच गई है। जबकि अब तक 39 लोगों की मौत हो चुकी है। 
 

Trump warn if China will found guilty of spreading Corona infection, could face consequences kps
Author
Washington D.C., First Published Apr 19, 2020, 10:23 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

वाशिंगटन. कोरोना वायरस का कहर अमेरिका में बढ़ता जा रहा है। यहां अब तक 39 हजार लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि अब तक 7 लाख 38 हजार से अधिक लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इन सब के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन को चेतावनी देते हुए कहा है कि यदि वो कोरोना वायरस के संक्रमण जान-बूझकर फैलाने का जिम्मेदार पाया जाता है तो नतीजे भुगतने के लिए तैयार रहे।  ट्रंप ने कोविड-19 को लेकर चीन के रहस्यमय अंदाज, इस बीमारी से जुड़े तथ्यों की पारदर्शिता में कमी और शुरुआती दौर में अमेरिका के साथ असहयोग के रवैये पर निराशा जताई है। 

परिणाम भुगतने को रहें तैयार 

व्हाइट हाउस में पत्रकारों से बात करते हुए ट्रंप ने कहा, "यदि वे जान बूझकर जिम्मेदार हैं तो, इसके परिणाम भुगतने को तैयार रहें, आपको पता है, आप जिंदगियों की बात कर रहे हैं, जैसा कि 1917 से कोई नहीं देखा है।" ट्रंप ने कहा कि जब तक कोविड-19 का संक्रमण पूरी दुनिया में फैला है उससे पहले तक उनका चीन से बहुत अच्छा संबंध थे। 

जान बुझकर चीजों को नियंत्रण से बाहर किया गया तो गुस्सा होना बनता है

चीन के साथ व्यापार समझौते के वक्त को याद करते हुए ट्रंप ने कहा कि जब हमलोग समझौते कर रहे थे तो उस वक्त रिश्ते बहुत अच्छे थे, लेकिन अचानक से आप इसके बारे में सुनते हैं, इसलिए ये बड़ा अंतर है। ट्रंप ने कहा, "आपको पता है, सवाल पूछा गया था कि क्या आप चीन पर गुस्सा होंगे...देखिए...इसका जवाब एक बड़ा सा हां हो सकता है, लेकिन ये निर्भर करता है।" राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि एक गलती की वजह से चीजें नियंत्रण से बाहर हो जाए और कुछ जानबूझकर किया जाए तो इसमें अंतर है। 

चीन को बताने में आ रही शर्म- ट्रंप

राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा, "दोनों ही हालत में उन्हें हमें बताना चाहिए था, आपको पता है हमने उनको शुरुआत में ही पूछा था लेकिन उन्होंने इस बारे में कुछ नहीं बताया, मुझे लगता है उन्हें पता था कि कुछ बुरा हुआ है और इसे बताने में उन्हें शर्म आ रही थी।"

चीन पर लगाया था झूठ बोलने का आरोप 

इससे पहले राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा था कि उन्हें चीन में कोरोना से होने वाली मौतों के आंकड़े पर यकीन नहीं है और चीन में अमेरिका से भी ज्यादा मौतें हुई है। ट्रंप ने ये बयान तब दिया था जब चीन ने कोरोना वायरस के केंद्र रहे वुहान में मौतों की संख्या में अचानक से 50 फीसदी का इजाफा कर दिया था। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios