उज्जैन. द्रौपदी पांडवों की पत्नी थी, ये बात तो सभी जानते हैं, लेकिन द्रौपदी के अलावा पांडवों की और भी पत्नियां थी। उनके बारे में कोई नहीं जानता। आज हम आपको उन्हीं के बारे में बता रहे हैं-
1. द्रौपदी के अलावा युधिष्ठिर की एक और पत्नी भी थी, जिसका नाम देविका था, उसके पुत्र का नाम यौधेय था।
2. भीमसेन की दो पत्नियां और थी। पहली हिडिंबा और दूसरी काशीराज की पुत्री बलंधरा। हिडिंबा का पुत्र घटोत्कच व बलंधरा के पुत्र का नाम सर्वग था।
3. अर्जुन ने श्रीकृष्ण की बहन सुभद्रा, नागकन्या उलूपी व मणिपुर की राजकुमारी चित्रांगदा से विवाह किया था। अर्जुन को सुभद्रा से अभिमन्यु, उलूपी से इडावान् और चित्रांगदा से बभ्रूवाहन नामक पुत्र था।
4. नकुल की पत्नी करेणुमती से निरमित्र और सहदेव की पत्नी विजया के गर्भ से सुहोत्र नामक पुत्र का जन्म हुआ।
5. द्रौपदी को पांचों पांडवों से एक-एक पुत्र था। युधिष्ठिर के पुत्र का नाम प्रतिविन्ध्य, भीम के पुत्र का नाम सुतसोम, अर्जुन के पुत्र का नाम श्रुतकर्मा, नकुल के पुत्र का नाम शतानीक तथा सहदेव के पुत्र का नाम श्रुतसेन था।