Asianet News Hindi

गरुड़ पुराण: कोई अपमान करें या बार-बार किसी काम में असफलता मिले तो क्या करना चाहिए?

हिंदू धर्म में कुल 18 पुराण बताए गए हैं। इनमें गरुड़ पुराण का विशेष महत्व है। इस पुराण में जन्म और मृत्यु से जुड़े रहस्य बताए गए हैं। इस पुराण के आचार कांड में नीतिसार नाम एक अध्याय है, इसमें सुखी और सफल जीवन की नीतियां बताई गई हैं।

Garuda Purana: What to do if you are insulted or if you fail in repeatedly? KPI
Author
Ujjain, First Published Sep 28, 2020, 1:05 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. इस पुराण के आचार कांड में नीतिसार नाम एक अध्याय है, इसमें सुखी और सफल जीवन की नीतियां बताई गई हैं। यहां जानिए नीतिसार के अनुसार 4 ऐसी बातें, जिनकी वजह से जीवन में परेशानियां बढ़ सकती हैं, जब भी ये बातें हों तो हमें सावधानी रखनी चाहिए...

अगर कोई छोटा व्यक्ति अपमान कर दे तो
सभी मान-सम्मान चाहते हैं। अगर उम्र या पद में बड़ा व्यक्ति कोई बुरी बात कहता है तो ये सहन किया जा सकता है, लेकिन कोई व्यक्ति उम्र में या पद छोटा है तो उसके द्वारा कही गई अपमानजनक बातें बहुत दुख देती हैं। ऐसे समय में क्रोध से बचें और धैर्य से काम लें, वरना परेशानियों और अधिक बढ़ सकती हैं।

बार-बार असफलता मिलती है तो
किसी काम में सफलता मिलेगी या असफलता, ये काम की शुरुआत में मालूम नहीं हो सकता, लेकिन बार-बार असफल होना बताता है कि हमारी कोशिशों में कमी है या हम लापरवाही कर रहे हैं। असफलता से सीख लेकर आगे बढ़ेंगे तो सफलता मिल सकती है।

जीवन साथी का भरोसा न तोड़ें
वैवाहिक जीवन में सबसे जरूरी बात ये है कि पति-पत्नी, दोनों एक-दूसरे पर भरोसा करें। जब भी ये विश्वास टूटता है तो परिवार टूट सकता है। जब पति-पत्नी एक-दूसरे पर भरोसा करना बंद कर देते हैं तो जीवन बर्बाद हो जाता है। इसीलिए ध्यान रखना चाहिए कि जीवन साथी का भरोसा कभी ना टूटे।

जब जीवन साथी बीमार रहने लगे
व्यक्ति को जीवनसाथी के स्वास्थ्य का पूरा ध्यान रखना चाहिए। अगर कभी भी साथी बीमार होता है तो इसे प्राथमिकता से देखना चाहिए। बीमारी की स्थिति में सही देखभाल की जाती है तो दोनों के बीच प्रेम और अधिक बढ़ता है। सुखी वैवाहिक जीवन के लिए जरूरी है कि पति-पत्नी, दोनों ही स्वस्थ रहें।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios