Asianet News HindiAsianet News Hindi

विचारों की पवित्रता व्यक्त करता है रक्षाबंधन पर्व, जानिए इस त्योहार से जुड़े लाइफ मैनेजमेंट सूत्र

रक्षाबंधन हिंदू धर्म के प्रमुख त्योहारों में से एक है। ये उत्सव श्रावण मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है। इस बार ये पर्व 3 अगस्त, सोमवार को है।

Rakshabandhan festival expresses the purity of thoughts, know the life management formula associated with this festival KPI
Author
Ujjain, First Published Jul 29, 2020, 3:56 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. इस बार ये पर्व 3 अगस्त, सोमवार को है। हिंदू धर्म के हर त्योहार की तरह इस पर्व में भी लाइफ मैनेजमेंट के अनेक सूत्र छिपे हैं, जो इस प्रकार हैं…

- रक्षाबंधन दो शब्दों से मिल कर बना है- रक्षा और बंधन। रक्षा का अर्थ है बचाना, सावधानी, सुरक्षा और बंधन का अर्थ है जिससे बांधा जाए। अर्थात् सुरक्षा के भाव से किसी से जुड़ना रक्षाबंधन है।
- संस्कृति शब्द रक्षिका का अपभ्रंश शब्द राखी है। इसका अर्थ होता है रक्षा करना। हमें सुरक्षा मिलती है- प्रज्ञा से, प्रेम से, पवित्रता से। इन पर्वों पर हम वेद शिक्षा आरंभ करते हैं, यज्ञोपवीत पहनते हैं और रक्षासूत्र बंधवाते हैं।
- श्रावण पूर्णिमा को मनाए जाने वाला यह त्योहार भारतीय लोक जीवन में भाई-बहन के पवित्र स्नेह का प्रतीक है।
- किंतु इस दिन मात्र बहन ही भाइयों को राखी बांधती है, ऐसा आवश्यक नहीं है , बल्कि त्योहार मनाने के लिए धर्म के प्रति आस्था होना आवश्यक है।
- इसलिए इस पर्व में दूसरों की रक्षा के धर्म-भाव को विशेष महत्व दिया गया है। इस प्रकार यह दिन हमारी ज्ञान प्राप्ति की इच्छा और विचारों की पवित्रता के भाव को व्यक्त करता है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios