Asianet News Hindi

गया में बीजेपी प्रेसिडेंट जेपी नड्डा की रैली पर विवाद, कोरोना में सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर दर्ज हुई FIR

मंगलवार की रात सीओ राजीव रंजन ने सिविल लाइंस थाना में बीजेपी महामंत्री प्रशांत कुमार समेत पार्टी के आयोजन से जुड़े कुछ लोगों पर एफआईआर कराई है। 

Controversy over on BJP President JP Nadda s rally in Gaya FIR lodged for social distancing
Author
Patna, First Published Oct 14, 2020, 11:49 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

गया/पटना। बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Polls 2020) के मद्देनजर गृह मंत्रालय ने तत्काल प्रभाव से कोरोना गाइडलाइन में छूट दी थी। इसके तहत सोशल डिस्टेंशिंग के साथ खुले मैदानों में रैलियों की अनुमति मिली थी। गया में 11 अक्तूबर को बीजेपी प्रेसिडेंट जेपी नड्डा (BJP President JP Nadda) ने रैली भी की। लेकिन अब इसे लेकर विवाद सामने आ रहा है। नड्डा की चुनावी सभा में सोशल डिस्टेंसिंग के पालन नहीं करने का आरोप लगा है। 

इसे लेकर यहां के सिविल लाइंस क्षेत्र में बीजेपी नेताओं पर प्राथमिकी दर्ज हुई है। मंगलवार को यहां के सदर एसडीओ इंद्रवीर कुमार ने सिटी क्षेत्र के सीओ को मामले की जांच करने को कहा था। मंगलवार की रात सीओ राजीव रंजन ने सिविल लाइंस थाना में बीजेपी महामंत्री प्रशांत कुमार समेत पार्टी के आयोजन से जुड़े कुछ लोगों पर एफआईआर कराई है। मामले में आगे की कार्रवाई की जा रही है। 

रैली में जुटे थे बीजेपी के दिग्गज 
बिहार विधानसभा के लिए गया के गांधी मैदान में बीजेपी (BJP) की रैली पहली चुनावी थी। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा मुख्य वक्ता थे। रैली में एनडीए (NDA) के नेता भी शामिल थे। इसमें हिन्दुस्तानी अवामी मोर्चा (HAM) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतनराम मांझी (Jeetanram Manjhi),  जेडीयू नेता आरसीपी सिंह, बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जयसवाल, कृषि मंत्री डॉ प्रेम कुमार, सांसद विजय कुमार मांझी आदि नेता प्रमुखता से शामिल हुए थे। 

गाइडलाइन का उल्लंघन 
इसी चुनावी सभा को लेकर आरोप है कि गाइडलाइन के बावजूद सोशल डिस्टेंसिंग का ठीक से पालन नहीं किया गया। 
हालांकि मंच पर मौजूद नेता और व्यवस्थापक बार बार लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग की अपील कर रहे थे। सभा में बैठने के लिए जो कुर्सियां थीं उन्हें भी डिस्टेन्स ध्यान में रखकर लगाया था। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios