Asianet News HindiAsianet News Hindi

बैंक मैंनेजर और स्टाफ पर तानी पिस्टल और 11 मिनट में लूट लिए 11 लाख रुपए

बीते कुछ दिनों से बिहार के बैंकों में लूट की घटनाएं बढ़ गई है। मुजफ्फपुर में बैंक लूट की तीन-चार घटनाएं हुई। हालिया घटना बिहार के बक्सर जिले की है। 

11 lakh robbery in daylight by holding cashier hostage in south bihar gramin bank in buxar
Author
Buxar, First Published Dec 21, 2019, 11:03 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बक्सर। बिहार के बेखौफ अपराधियों से अब बैंक भी त्रस्त है। बीते कुछ दिनों से जिस तरह से बैंक में लूट की घटनाएं बढ़ी है, उससे बैंक मैनेजर सहित अन्य स्टाफ भी चिंतित है। मुजफ्फरपुर में बीते महीने में बैंक लूट की तीन-चार घटनाएं हुई। पुलिस की सख्ती के बाद कुछ दिनों से अपराधियों के हौसले पस्त हुए लेकिन 19 दिसंबर को कमतौल में बैंक में लूट कर अपराधियों ने पुलिस को फिर से नई चुनौती दी। लूट की इस घटना में किसका हाथ है, उसकी जांच अभी चल रही है। इसी बीच बिहार के एक और जिले से बैंक लूट की ऐसी ही घटना सामने आ गई। यहां अपराधियों ने दिनदहाड़े 11 मिनट में बैंक से 11 लाख लूट लिए।  

सीसीटीवी को भी किया क्षतिग्रस्त
घटना बक्सर जिले की है। बक्सर के इंडस्ट्रियल थाना क्षेत्र में सोनवर्षा बाजार पड़ता है, जहां स्थानीय जरूरतों को पूरा करने वाली सभी दुकानें है। जाहिर है दुकानें है तो बैंक भी होगी। सोनवर्षा बाजार में दक्षिण बिहार ग्रामीण बैंक की शाखा है। जहां शुक्रवार दोपहर 11 बजे प्रबंधक समेत 5 स्टाफ को बंधक बनाकर तीन हथियारबंद बदमाशों ने 11 लाख 10 हजार रुपए लूट लिए। लुटेरे ठीक 11 बजे घुसे और 11:11 बजे निकल गए। सीसीटीवी कैमरे भी तोड़ डाले। 

लूट के समय बैंक में नहीं था कोई गार्ड
मिला जानकारी के अनुसार जब बैंक मैनेजर बैंक में घूस रहे थे, तभी उनके पीछे से तीन अपराधी भी आ गए। घुसते ही अपराधियों ने सबसे पहले गेट बंद कर दिया। इसके बाद हथियार के बल पर सभी का मोबाइल छीन बैंक के एक कमरे में बंद कर दिया। फिर बैंक मैनेजर को एक अपराधी कब्जे में लेकर कैश काउंटर तक गया। तभी दूसरे ने साथ लाए थैले में सभी रकम भर ली और आराम से निकल गए। लूट की ये पूरी घटना सीसीटीवी में कैद है। जिसके आधार पर पुलिस छानबीन कर रही है।  बताया जाता है कि जिस समय बैंक में लूट हुई उस समय कोई गार्ड वहां तैनात नहीं था। दरअसल बैंक में एक महिला गार्ड की तैनाती है, लेकिन उस वक्त वह ड्यूटी पर नहीं थी। लूट के बाद जब बदमाश बाहर निकल रहे थे, तब गार्ड बैंक में आ रही थी।
प्रतीकात्मक फोटो 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios