Asianet News Hindi

नर्सिंग होम संचालक के घर में छिपे थे मरकज से लौटे 11 लोग, टीम आई तो नहीं खोल रहे थे दरवाजा

तब्लीगी मरकज में शामिल हुए लोगों में कोरोना फैलने के बाद से पूरे देश में वैसे लोगों की तलाश की जा रही है, जो दिल्ली के निजामुद्दीन में आयोजित तब्लीगी मरकज में शामिल हुए थे। इस बीच बिहार के समस्तीपुर जिले से जमात में शामिल हुए 20 लोगों को बरामद कर आइसोलेशन में भेजा गया है।  
 

11 people found in samastipur who return from tablighi markaz in delhi pra
Author
Samastipur, First Published Apr 2, 2020, 2:14 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

समस्तीपुर। दिल्ली के निजामुद्दीन में बीते दिनों संपन्न हुए तब्लीगी मरकज में शामिल होने वाले 11 लोग बिहार के समस्तीपुर जिले में मिले है। ये लोग शहर के धरमपुर मोहल्ला में एक नर्सिंग होम संचालक के घर से मिले। इसमें 9 बंगलादेशी, एक यूपी और एक झारखंड के रहने वाले हैं। सभी विदेशी टूरिस्ट वीजा पर दिल्ली के निजामुद्दीन में आयोजित जमात में भाग लेकर विभिन्न स्थानों से होते हुए गत 29 फरवरी को समस्तीपुर पहुंचे थे। गुप्त सूचना पर स्वास्थ्य विभाग व पुलिस की टीम ने सभी को बरामद कर शहर के एक होटल में बनाए गए आइसोलेशन वार्ड में 14 दिन के लिए क्वारेंटाइन कर दिया।

पुलिस की सख्ती देख खोला किबाड़
मिली जानकारी के अनुसार शहर में आस्था नर्सिंग होम चलाने वाले मो. इश्तेयाक के धरमपुर स्थित घर में कई दिनों से दिल्ली जमात में शामिल होने वाले विदेशी रुके थे। जब स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ नगर पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। शुरू में घर वाले किबाड़ खोलने को तैयार नहीं हुए। बाद में पुलिस की सख्ती देख किबाड़ खोला। तलाशी के दौरान घर से 9 बांग्लादेशी के अलावा झारखंड व उत्तर प्रदेश के एक-एक लोग मिले। सभी विदेशियों का मेडिकल चेकअप कराया गया है। समस्तीपुर डीएम ने बताया कि मकान मालिक पर प्राथमिकी दर्ज की जा सकती है। उधर, जिले के सिंघिया के बसौली गांव से तब्लीगी जमात में शामिल होकर लौटे नेपाल के सप्तरी जिले के नौ लोगों को हिरासत में ले लिया गया। सभी लोगों को क्वारेंटाइन में भेजा गया है।

छोटी मस्जिद में रुके 24 से अधिक लोग भागे
स्टेशन रोड स्थित छोटी मस्जिद में निजामुद्दीन से लौटे 24 से अधिक लोगों के ठहरने की सूचना लोगों ने मंगलवार रात पुलिस को दी लेकिन पुलिस नहीं पहुंची। बुधवार सुबह कुछ लोगों के सहयोग से सभी लोगों को मस्जिद से निकाल दिया गया। चर्चा है कि सभी लोग इधर-उधर छिपे हुए हैं। पुलिस सूत्रों ने बताया कि जब सभी बांग्लादेशी गत 29 फरवरी को समस्तीपुर आए थे तो वह किस परिस्थिति में शहर के धरमपुर में रुके हुए थे। इस दौरान वह कहां-कहां गए और किस-किस से मिले इसकी जानकारी जुटाई जा रही है। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios