Asianet News HindiAsianet News Hindi

RJD के सीनियर नेता का दावा, पार्टी से निकाल दिए गए हैं तेज प्रताप यादव, वीडियो वायरल

RJD के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी के हवाले से मीडिया में चल रही खबरों में कहा जा रहा है कि तेज प्रताप को 'लालटेन' के प्रयोग से भी हाईकमान ने मना कर दिया है।

Bihar Shivanand Tiwari said, Tej Pratap Yadav has been out of RJD
Author
Patna, First Published Oct 6, 2021, 9:23 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp


पटना : क्या राष्ट्रीय जनता दल (RJD) ने तेजप्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया है? क्या लालू प्रसाद यादव ने अपने बड़े बेटे को पार्टी सिंबल के इस्तेमाल पर रोक लगा दी है? मीडिया में राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ( Shivanand Tiwari) के हवाले से चल रही एक खबर के मुताबिक तेजप्रताप यादव अब RJD में नहीं हैं। खबर में बताया जा रहा है कि शिवानंद तिवारी ने कहा है कि तेज प्रताप यादव अब पार्टी में नहीं हैं। उन्होंने तो एक नया संगठन खड़ा कर लिया है। ऐसे में वे खुद ही पार्टी से बाहर हो चुके हैं।

तेज प्रताप पार्टी में हैं ही कहां?
बुधवार को हाजीपुर पहुंचे शिवानंद तिवारी (Shivanand Tiwari)ने एक सवाल के जवाब में दावा किया कि लालू यादव (Lalu Yadav) के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) अब राजद में नहीं हैं। उन्हें पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है। उन्होंने कहा, तेज प्रताप पार्टी में हैं ही कहां? उन्होंने नया संगठन भी बनाया है। वो अब पार्टी में नहीं हैं। तेज प्रताप को पार्टी से निष्कासित किए जाने के सवाल पर शिवानंद तिवारी ने कहा,  निष्कासित करने का सवाल ही कहां है, वह तो अपने आप ही निष्कासित हो चुके हैं।

 

 

'लालटेन' का इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे
राजद में तेजस्वी और तेज प्रताप में मचे घमासान के बीच शिवानंद तिवारी का बयान चौंकाने वाला भी है। उन्होंने यह भी दावा किया कि तेज प्रताप यादव को पार्टी के आधिकारिक चिन्ह लालटेन के इस्तेमाल की भी मनाही कर दी गई है। तेज प्रताप ने जो संगठन बनाया है, उसमें लालटेन का सिंबल लगाया था, लेकिन उनकी पार्टी ने उन्हें ऐसा करने से मना कर दिया है।

अब RJD की विरासत पूरी तरह तेजस्वी की
शिवानंद तिवारी के दावे में अगर सच्चाई है तो यह तय हो गया है कि राष्ट्रीय जनता दल  (RJD) में पार्टी की विरासत लालू यादव के बाद अब पूरी तरह से तेजस्वी को मिल चुका है। अब उनके ही कंधों पर पार्टी को आगे ले जाने की जिम्मेदारी होगी।

इसे भी पढ़ें-लखीमपुर खीरी पहुंचे राहुल-प्रियंका, थोड़ी देर में पीड़ित किसानों से करेंगे मुलाकात

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios