Asianet News Hindi

नीतीश के साथ हुए 208 नेता, एलजेपी ने कहा-जेडीयू को मुबारक हो बिहार फर्स्ट, बिहारी फर्स्ट के 'गद्दार'

जेडीयू के प्रदेश कार्यालय में आयोजित मिलन समारोह में एलजेपी के बागी नेता जेडीयू में शामिल होंगे। समारोह में जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह उन्‍हें पार्टी की सदस्‍यता दिलाएंगे। समारोह में मंत्री बिजेंद्र यादव, संजय झा, विजय चौधरी, श्रवण कुमार, अशोक चौधरी शामिल रहेंगे।

Chirag Paswan gets a big blow from Nitish Kumar, LJP leader will join JDU today asa
Author
Patna, First Published Feb 18, 2021, 11:18 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटना (Bihar)। विधानसभा चुनाव के दौरान सीएम नीतीश कुमार को झटका देने वाले लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान को बड़ा झटका लगा है। एलजेपी के कई जिलाध्‍यक्षों सहित 208 नेताओं जेडीयू में शामिल हो गए। वहीं, एलजेपी ने कहा कि जेडीयू को बिहार बिहारी फर्स्ट मुहिम के गद्दार मुबारक हो, हमारी पार्टी समुद्र मंथन के दौर में है और एलजेपी से निकाले गए लोग अब जेडीयू में चले गए। बता दें कि इसके पहले जनवरी में भी एलजेपी में एक और बड़ी बगावत हो चुकी है। तब पार्टी के 27 नेताओं ने सामूहिक इस्‍तीफा दे दिया था।

बगावत के क्‍या हैं कारण  
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक एलजेपी के सत्‍ता से दूर हो जाना बड़ा कारण माना जा रहा है। ऐसे में सत्‍ता की चाहत व महत्‍वाकांक्षा के साथ पार्टी में आने वाले नेता बाहर का रास्‍ता पकड़ रहे हैं।

एलजेपी के बागी ने बताया ये वजह
एलजेपी के बागी नेता केशव सिंह कहते हैं कि चिराग पासवान ने पार्टी के कार्यकर्ताओं को ठगा, जिससे वे आहत हैं। उन्‍होंने कहा कि चिराग पासवान ने 94 विधानसभा क्षेत्रों में फरवरी 2019 में 25 हजार सदस्य बनाने वालों को ही विधानसभा चुनाव का टिकट देने की घोषणा की थी। इस एवज में बड़ी राशि वसूली गई। लेकिन, जब चुनाव आया तो पैसे लेकर बाहरी लोगों को टिकट दे दिए। केशव सिंह कहते हैं कि चिराग ने चुनाव के दौरान राष्‍ट्रीय जनता दल व महागठबंधन की दलाली की तथा पार्टी के साथ-साथ एनडीए को भी क्षति पहुंचाया।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios