Asianet News Hindi

कांग्रेस ने बिहार में सीएम के लिए उछाला मीरा कुमार का नाम, महागठबंधन में असमंजस की स्थिति

बिहार में विधानसभा चुनाव इस वर्ष अक्टूबर-नवंबर में होना है। जिसमें सीधा मुकाबला सत्तासीन एनडीए का विपक्षी महागठबंधन से होना है। इस चुनाव के लिए एनडीए की ओर से नीतीश कुमार मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार हैं। जबकि महागठबंधन की ओर से अलग-अलग नेताओं का नाम सामने आ रहा है। 
 

congress floats meira kumar name for the cm face of bihar in assembly election 2020 pra
Author
Patna, First Published Jan 20, 2020, 11:38 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटना। बिहार में विधानसभा चुनाव इसी वर्ष अक्टूबर-नवंबर में होना है। इसके लिए सभी राजनीतिक दल अपनी तैयारी में जुट चुके हैं। सत्ताधारी एनडीए  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में ही चुनाव में उतरने जा रही है। भाजपा के राज्यस्तरीय नेताओं के बयानों के बाद भी गृहमंत्री अमित शाह ने नीतीश के नेतृत्व में चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। दूसरी ओर महागठबंधन में अबतक सीएम फेस पर सभी पार्टियां एकमत नहीं हुई है। बीते दिनों राजद प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बताया था। लेकिन इसपर महागठबंधन के सभी दल एकमत नहीं थे। मुख्यमंत्री पद के लिए जारी गतिरोध के बीच कांग्रेस की ओर से मीरा कुमार का नाम उछाला गया है। जिसके बाद राजद व अन्य दलों के लिए असमंजस की स्थिति हो गई है। 

प्रेमचंद्र मिश्र ने उछाला मीरा कुमार का नाम
उल्लेखनीय हो कि बीते दिनों कांग्रेस नेता प्रेमचंद्र मिश्र ने सीएम फेस के लिए मीरा कुमार का नाम आगे बढ़ाते हुए कहा था कि कुछ लोग अक्सर कहते हैं कि हमारे पास सीएम फेस नहीं है। मैं उनलोगों को बता देना चाहता हूं कि कांग्रेस में लीडरशीप की कोई कमी नहीं है। मीरा कुमार से बेहतर  सीएम फेस कोई नहीं है। मुझे नहीं लगता कि कोई भी उनकी काबिलियत का मुकाबला नहीं कर सकता। प्रेमचंद्र मिश्र के बयान का सर्मथन करते हुए कांग्रेस के एक अन्य नेता सदानंद सिंह ने कहा था कि उन्होंने कुछ गलत नहीं कहा। हालांकि सदानंद सिंह ने साफ किया कि सीएम फेस पर आखिरी फैसला पार्टी आलाकमान लेगा। 

महागठबंधन में शामिल हैं पांच दल
उल्लेखनीय हो कि बिहार में बने विपक्षी महागठबंधन में पांच दल शामिल है। सबसे बड़े दल के रूप में महागठबंधन का नेतृत्व राजद के हाथों में है। इसके अलावा इस विपक्षी खेमे में कांग्रेस, रालोसपा, हम और वीआईपी है। ये सभी दल लोकसभा चुनाव में एक साथ उतरे थे। हालांकि लोकसभा चुनाव में महागठबंधन को करारी हार झेलनी पड़ी थी। बिहार की 40 लोकसभा सीटों में से मात्र एक सीट पर महागठबंधन का उम्मीदवार जीत सका था। हालांकि अब विधानसभा चुनाव में परिस्थितियां अलग है। 

साथ बैठकर इस मसले पर करेंगे बातःराजद
मुख्यमंत्री पद के लिए मीरा कुमार का नाम आगे बढ़ाने के बाद महागठबंधन में असमंजस की स्थिति है। बता दें कि मीरा कुमार बिहार में कांग्रेस की बड़ी नेता हैं। लोकसभा सांसद रहते हुए वो लोकसभा की स्पीकर भी बनी थी। उनके पिता जगजीवन राम लंबे समय तक केंद्रीय मंत्री रहे हैं। मीरा कुमार की दावेदारी पर आरजेडी के राष्ट्रीय महासचिव आलोक मेहता कुछ भी स्पष्ट कहने से बचते दिखे। उन्होंने कहा कि हमलोग साथ बैठकर इस मसले पर बातचीत करेंगे। हालांकि, आरजेडी का स्टैंड क्लियर है कि तेजस्वी ही सीएम फेस होंगे।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios