Asianet News HindiAsianet News Hindi

चुपके से करा रहे थे नाबालिग लड़की की शादी, लेकिन दुल्हन ने कर दिया पुलिस को मैसेज, फिर....

मामला बिहार के मोतिहारी के डुमरियाघाट की है। जहां एक नाबालिग लड़की के परिजन उसकी शादी करा रहे थे। शादी के लिए मुजफ्फरपुर से बारात भी निकल चुकी थी। लेकिन इसी बीच दुल्हन से चुपके से एसपी को मैसेज कर दिया। जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शादी को रुकवा दी। 

motihari police a child marriage in dumarighat police station area pra
Author
Motihari, First Published Mar 5, 2020, 1:22 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मोतिहारी।  जिले के डुमरियाघाट थाना क्षेत्र के एक गांव में एक नाबालिग लड़की कराई जा रही थी। मुजफ्फरपुर के साहेबगंज से लड़की की शादी के लिए बारात भी निकल चुकी थी। लड़की के दरवाजे पर शादी की रौनक थी। संगे-संबंधी के साथ-साथ गांव वाले भी थे। लेकिन तभी मौके पर पहुंची पुलिस ने शादी रुकवा दी। इतना ही नही पुलिस ने लड़की को अपने अभिरक्षा में ले लिया। पुलिस हस्तक्षेप के बाद मुजफ्फरपुर जिले के साहेबगंज से आई बरात को दुल्हन के बगैर बिना शादी किए बैरंग वापस लौटना पड़ा। 

मोतिहारी एसपी को मैसेज कर लगाई थी गुहार
दरअसल हुआ यह था की नाबालिग लड़की ने अपने मोबाइल से मोतिहारी एसपी को मैसेज कर अपने को नाबालिग बताते हुए परिजनों द्वारा कम उम्र में जबरन शादी कराने का आरोप लगाया. साथ हीं वह शादी से इनकार करते हुए मदद की अपील की। जिसके बाद एसपी के निर्देश पर चकिया डीएसपी ने स्थानीय पुलिस को शादी रुकवाने के लिए कहा। जिसके बाद आनन-फानन में पुलिस लड़की के दरवाजे पर पहुंची। पुलिस ने वहां परिजनों और गांववालों से जानकारी ली तथा इस लड़की से बात की। 

लड़की ने पुलिस के सामने खुद को बताया नाबालिग
लड़की ने पुलिस के समक्ष अपने को नाबालिग बताते हुए शादी से इनकार कर दिया। इस दौरान लड़की के दरवाजे पर बरात की सारी तैयारी हो चुकी थी। उसके सारे रिश्तेदार कुटुंब भी पहुंच चुके थे। बरात पहुंचने का इंतजार हो रहा था। हालांकि पुलिस को देख परिजन और ग्रामीण हतप्रभ रह गए। बता दें कि कानूनन 18 साल के कम उम्र की लड़की की शादी कराना भारत में अपराध है। लेकिन इसके बाद भी कई ग्रामीण क्षेत्रों में बाल विवाह करा दिया जाता है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios