Asianet News Hindi

क्वारेंटीन सेंटर में प्रवासियों को परोसे गए खाने में मिला बिच्छू, कई बीमार; हरकत में प्रशासन

बिहार के क्वारेंटीन सेंटर में किस कदर लापरवाही बरती जा रही है, इसका एक उदाहरण दरभंगा से सामने आया है। जहां क्वारेंटीन सेंटर में रखे गए प्रवासियों को परोसे गए भोजन में बिच्छू मिला। इस भोजन को खाने से कई प्रवासियों की तबियत खराब हो गई। 

scorpion found in food of quarantine center at darbhanga in bihar pra
Author
Darbhanga, First Published May 31, 2020, 1:09 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

दरभंगा। जिले के केवटी प्रखंड के बद्री यादव उत्क्रमित माध्यमिक विद्यालय कोयलास्थान में बनाए गए क्वारेंटीन सेंटर में प्रवासियों को परोसे गए भोजन में शनिवार को बिच्छू मिला।  दिन के करीब 11.30 बजे जब 10 प्रवासी खाना खाने के लिए बैठे तो सब्जी के कटोरे में प्रवासी मनोज यादव ने एक बिच्छू को देखा। जिसे देख अफरातफरी मच गई। लोगों ने खाना छोड़ दिया। खाना खा चुके दीपक पासवान, प्रकाश यादव, राजेश यादव, प्रमोद पासवान को उल्टी होने लगी। लोगों की तबियत खराब होते देख तुरंत मामले की सूचना स्कूल के हेडमास्टर, क्वारेंटीन प्रभारी को दी गई।  

पहले भी चावल में मिल चुका है कीड़ा 
एचएम ने कटोरे में बिच्छू मिलने के लिए प्रवासियों से माफी मांगी और आगे से ऐसी गड़बड़ी नहीं होने का आश्वासन दिया। फिर भी लोग भोजन करने के लिए राजी नहीं हुए। भोजन में कीड़ा मिलने के साथ-साथ प्रवासी क्वारेंटीन सेंटर की अन्य गड़बड़ियों को लेकर आक्रोशित हो गए। इस दौरान सेंटर पर जमकर हंगामा किया गया। खाने का बहिष्कार कर रहे 45 प्रवासियों ने कहा कि खाना बनाते समय सावधानी नहीं बरती जाती है। पूर्व में भी चावल में कीड़ा पाया गया था। प्रतिदिन लाल चाय दी जाती है। सभी शौचालय गंदे हैं।

फेंक दिया गया बिच्छू मिला भोजन 
मामले की गंभीरता को देखते हुए सूचना मिलते ही सीओ अजीत कुमार झा आए। सीओ, बीईओ रामेश्वर द्विवेदी और डॉ. एनके लाल के समझाने के बाद प्रवासी भोजन को राजी हुए। बिच्छू मिला भोजन फेंकवा दिया गया। साथ ही ताजा भोजन की व्यवस्था की गई। जिसके बाद प्रवासियों ने भोजन किया। मामले में एमओआईसी डॉ. निर्मल कुमार लाल ने कहा कि खाना खाने वाले लोगों की जांच की गई। सभी स्वस्थ है। डर से उल्टी हो गई। घबराने की बात नहीं है। बता दें कि इससे पहले भी बिहार के कई क्वारेंटीन सेंटर से बदइंतजामी के कई मामले सामने आ चुके हैं। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios