धूमधाम से बारात लेकर पहुंचा दूल्हा, तभी कुछ हुआ ऐसा...सब ने पकड़ लिया माथा, दुल्हन बोली-नहीं जाऊंगी तेरे साथ

| Dec 01 2022, 02:40 PM IST

धूमधाम से बारात लेकर पहुंचा दूल्हा, तभी कुछ हुआ ऐसा...सब ने पकड़ लिया माथा, दुल्हन बोली-नहीं जाऊंगी तेरे साथ

सार

बिहार में एक शादी में जयमाल के समय दुल्हन ने शादी से इनकार कर दिया। दुल्हन के शादी से इनकार करते ही हड़कंप मच गया। दोनों पक्षों में विवाद शुरू हो गया। जिसके बाद दुल्हन पक्ष के लोगों ने बारातियों को बंधक बना लिया।

खगड़िया( Bihar).  बिहार में एक शादी में जयमाल के समय दुल्हन ने शादी से इनकार कर दिया। दुल्हन के शादी से इनकार करते ही हड़कंप मच गया। दोनों पक्षों में विवाद शुरू हो गया। जिसके बाद दुल्हन पक्ष के लोगों ने बारातियों को बंधक बना लिया। इसी बीच किसी ने पुलिस को सूचना दी तो आनन- फानन में पुलिस मौके पर पहुंची। जिसके बाद किसी तरफ मामला शांत हुआ। लेकिन दुल्हन दूल्हे की एक कमी के चलते शादी को तैयार नही हुई। जिसके बाद बारात बैरंग वापस लौट गई। 

जानकारी के मुताबिक बारात भागलपुर जिले के नवगछिया नारायणपुर की रहने वाली छोटी कुमारी की शादी से खगड़िया के रहीमपुर नया टोला निवासी हितेश से तय थी। मंगलवार की हितेश बारात लेकर खगड़िया के रहीमपुर नया टोला पहुंचा। बारात आने के बाद शुरुआती रसमें निभाई गईं। लेकिन जयमाला के समय जब दूल्हे ने हकला कर बोलना शुरू किया तो दुल्हन का माथा ठनका। तब से वह दूल्हे की हर गतिविधि पर बारीकी से नजर रखने लगी। सिंदूरदान के समय दुल्हन ने दूल्हे को मन्दबुद्धि बताकर बखेड़ा खड़ा कर दिया और शादी से इनकार कर दिया।

Subscribe to get breaking news alerts

दुल्हन बोली इस मन्दबुद्धि ने नहीं करूंगी शादी
दुल्हन छोटी कुमारी के मुताबिक जैसे ही शादी से पहले जयमाला के लिये स्टेज पर दुल्हा हितेश आया वह हकला कर बोलने लगा। उसी ये लग गया कि झूठ बोलकर मेरी शादी कराई जा रही है। उसके बाद दूल्हा मंडप में कुछ भी करता तो अपने भाई से पूछता था। इससे दूल्हे की हर गतिविधि पर बारीकी से नजर रख रही दुल्हन समझ गई कि उसका होने वाला पति मन्दबुद्धि है। जिसके बाद सिंदूरदान के समय दुल्हन ने बखेड़ा खड़ा करते हुए शादी करने से इंकार कर दिया।

दूल्हे का मामा बोला- पहले ही बताया था दूल्हा सुस्त और मां-पिता मन्दबुद्धि हैं
दूल्हे के मामा संजीव झा ने पुलिस को बताया कि ये बात शादी के पहले से ही लड़की के परिवार की बता दिया गया था कि दुल्हे के पिता, मां, चाचा सभी लोग मंद बुद्धि हैं। दुल्हा भी थोड़ा सुस्त है। उसके बाद 25 नवंबर को तिलक हुआ,तो किसी ने कुछ नही कहा। 30 नवंबर को बारात आई जयमाला हुआ उसके बाद सिंदुरदान के समय शादी से इंकार कर दिया गया और सभी बाराती को बंधक बनाकर रखा गया।

घंटों बंधक बने रहे बाराती
लड़की के परिवार वालों ने बताया कि शादी से पहले कुछ भी नहीं बताया गया था। शादी के समय जब पता चला कि सास ससुर से लेकर पूरा खानदान मंदबृद्धि है तो  कोई कैसे शादी करने को तैयार हो सकता है। लड़की द्वारा शादी से इंकार करने के बाद आक्रोशित गांववालों ने सभी बारातियों को बंधक बना लिया। जिसके बाद पुलिस के हस्तक्षेप से दूल्हा समेत सभी बाराती को बस से बैरंग बिना शादी के वापस किया गया।

इसे भी पढ़ें...

पूर्णिया मेडिकल शॉप में पकड़ाई दुर्लभ नस्ल की गेको छिपकली, कीमत जान आप हो जाएंगे हैरान, क्यों है ये इतनी महंगी

मातम में बदल गईं शादी वाले घर की खुशियां, चौथे दिन ही उजड़ गई दुल्हन की मांग, जानें क्या है मामला