Asianet News Hindi

एसटीएफ ने लिया थानेदार के हत्या का बदला, उसी स्थान पर किया हत्यारे का एनकाउंटर

दिनेश मुनि के बारे में कहा जाता है कि खगड़िया जिले के पसराहा थानाध्यक्ष आशीष सिंह के शहीद होने बाद दियारा के इलाके में उसकी तूती बोलती थी। अपने जांबाज थानेदार को खोने के बाद बिहार पुलिस की टीम भी काफी दिन से दिनेश मुनि की टोह में लगी थी और अंतत: उसे उसी के इलाके में ढेर कर दिया गया।

STF took revenge with the killer of SHO Ashish Singh, accused Dinesh Muni encounter at the same place asa
Author
Bhagalpur, First Published Jun 4, 2020, 10:03 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

भागलपुर (Bihar) । बिहार एसटीएफ ने दिनेश मुनि का एनकाउंटर कर दिया। यह मुठभेड़ नवगछिया के भवानीपुर के नारायणपुर दियारा इलाके में हुई। बता दें कि दिनेश मुनि पसराहा के थानेदार आशीष सिंह हत्याकांड का मुख्य आरोपी था। उसने इसी इलाके एनकाउंटर के दौरान थानेदार की हत्या की थी, जिसके बाद से एसटीएफ उसे खोज रही थी।

मौके से हथियार बरामद
दिनेश मुनि के एनकाउंटर में मारे जाने की पुष्टि भागलपुर रेंज के डीआईजी सुजीत कुमार ने भी की है। पुलिस की टीम ने मौके से दो कार्रबाइन और एक बंदूक भी बरामद किया है। दिनेश मुनि इलाके का कुख्यात था साथ ही खगड़िया जिले के पसराहा के थानेदार आशीष सिंह हत्याकांड का मुख्य आरोपी था। 

दो साल पहले हुई थी थानेदार की हत्या
पसराहा के थानेदार आशीष सिंह की हत्या 12 अक्टूबर 2018 को नारायणपुर इलाके में एनकाउंटर के दौरान कर दी गई थी। वहीं, एनकाउंटर में कुख्यात श्रवण यादव भी ढेर किया गया था। 

एसटीएफ को थी तलाश
दिनेश मुनि के बारे में कहा जाता है कि खगड़िया जिले के पसराहा थानाध्यक्ष आशीष सिंह के शहीद होने बाद दियारा के इलाके में उसकी तूती बोलती थी। अपने जांबाज थानेदार को खोने के बाद बिहार पुलिस की टीम भी काफी दिन से दिनेश मुनि की टोह में लगी थी और अंतत: उसे उसी के इलाके में ढेर कर दिया गया।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios