48 घंटे में महिला की दो बार शादी, पहले भांजे फिर पति ने भरी मांग, वजह जान घूम जाएगा माथा

| Dec 04 2022, 10:47 AM IST

48 घंटे में महिला की दो बार शादी, पहले भांजे फिर पति ने भरी मांग, वजह जान घूम जाएगा माथा

सार

बिहार के खगड़िया में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां एक महिला की 48 घंटे में दो बार मांग भरी गई। दो दिन में दो बार शादी होने का मामला पूरे इलाके में चर्चा का विषय बना है।

खगड़िया(Bihar).  बिहार के खगड़िया में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां एक महिला की 48 घंटे में दो बार मांग भरी गई। दो दिन में दो बार शादी होने का मामला पूरे इलाके में चर्चा का विषय बना है। सबसे चौंकाने वाली बात ये है कि दूसरी बार महिला की मांग उसके उसी पति ने ही भरी जिससे सालों पहले उसकी शादी हुई थी। 

जानकारी के मुताबिक बिहार के खगड़िया जिले के महेशखूंट थाना क्षेत्र के काजीचक पंचायत के रहने वाले बबलू शर्मा की शादी करीब 12 साल पहले सुनीता से हुई थी। सुनीता की मुलाकात एक शादी समारोह में दूर के रिश्ते के भांजे संतोष से हुई। संतोष चौथम थाना के मलपा गांव का रहने वाला था। सुनीता और संतोष की मुलाकातों का सिलसला धीरे धीरे प्यार में बदल गया। राजमिस्त्री होने के चलते परिवार का घर खर्च चलाने के लिए सुनीता का पति बबलू ज्यादातर घर के बाहर ही रहता था। भांजा संतोष उसकी अनुपस्थिति में मामा के घर आने लगा। बबलू को इसकी भनक लग गई।

Subscribe to get breaking news alerts

रंगे हाथ पकड़ा तो भांजे के साथ करवा दी पत्नी की शादी
भांजा संतोष अब लगभग हर रोज ही अपनी मामी के घर आने लगा। एक दिन जब भांजा अपनी मामी से मिलने आया तो इसी बीच अचानक मामा संतोष भी घर पहुंच गया। उसने दोनों को रंगे हाथ पकड़ लिया। गुस्सा प्रकट करने के बजाय उसने अपने प्यार की कुर्बानी देते हुए दोनों की शादी करवा दी और खुशी-खुशी दोनों को विदा कर दिया। 

24 घंटे भी नही टिका प्यार, वापस लौटी घर
भांजे का प्यार 24 घंटे भी नहीं टिका और वह अपनी मामी को छोड़कर फरार हो गया। महिला फिर से थक-हार कर अपने पति के पास उसके घर वापस आ गई। पति ने भी उसकी गलती को माफ करते हुए फिर से उसकी मांग भर दी। 

पूरा गांव कर रहा बबलू के फैसले की तारीफ़
संतोष के फरार होने के बाद सुनीता को भी अपनी गलती का एहसास हुआ। उसे अपने पहले पति बबलू की याद आई। किसी तरह से हिम्मत जुटाकर वह अपने पहले पति बबलू के घर पहुंची। शुरुआत में तो बबलू ने उसे अपने साथ रखने से इनकार कर दिया, लेकिन लोगों के समझाने और सुनीता की लाचारी और बेबसी को देखते हुए वह उसे अपने साथ रखने को तैयार हो गया। 12 साल पहले जिस बबलू के साथ उसकी शादी हुई थी एक बार फिर से उसी के साथ सुनीता की शादी रचाई गई। पति ने उसकी मांग में सिंदूर भरकर अपना जीवनसाथी स्वीकार कर लिया। 

इसे भी पढ़ें...

बिहार के छोरे पर आया जर्मनी की छोरी का दिल, ऐसे परवान चढ़ा प्यार, हिंदू रीति-रिवाज से शादी

तीन साल पहले सड़क पर लावारिस मिला था ये बच्चा, अब ऐसी चमकी किस्मत कि अमेरिका में जाकर रहेगा, दिलचस्प स्टोरी

 

Top Stories