Asianet News Hindi

अब भाई-भतीजावाद पर 'आशिकी' की एक्ट्रेस ने निकाली भड़ास, फिल्म इंडस्ट्री को लेकर किए चौंकाने वाले खुलासे

फिल्म इंडस्ट्री में भाई-भतीजावाद का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। नेपोटिज्म से परेशान सेलेब्स आए दिन अपनी बात कहने के लिए सामने आ रहे है। अब ब्लॉकबस्टर फिल्म आशिकी की एक्ट्रेस अनु अग्रवाल नेपोटिज्म पर अपनी बात रखने के लिए आगे आई है। उन्होंने अपने आउटसाइडर होने के कारण जो खामयाजा भुगता उसका बुरा एक्सपीरिएंस शेयर किया। उन्होंने कई चौंकाने वाले खुलासे भी किए। उन्होंने बताया मेरे साथ कोई गॉडफादर नहीं था, जो साथ खड़ा हो और जो लोग साथ खड़े थे, वो बदले में कुछ चाहते थे, जिसके लिए मैं तैयार नहीं थी। 

anu aggarwal on nepotism says how she was made to feel like outsider KPJ
Author
Mumbai, First Published Jun 25, 2020, 4:02 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. सुशांत सिंह राजपूत के आत्महत्या मामले के बाद फिल्म इंडस्ट्री में भाई-भतीजावाद का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। नेपोटिज्म से परेशान सेलेब्स आए दिन अपनी बात कहने के लिए सामने आ रहे है। इतना ही नहीं सुशांत के फैन्स से सोशल मीडिया पर करन जौहर, सलमान खान, संजय लीला भंसाली, यशराज फिल्म्स, भूषण कुमार जैसों पर नेपोटिज्स को लेकर खूब निशाना साधा। अब ब्लॉकबस्टर फिल्म आशिकी की एक्ट्रेस अनु अग्रवाल नेपोटिज्म पर अपनी बात रखने के लिए आगे आई है। उन्होंने कई चौंकाने वाले खुलासे भी किए। बता दें कि अनु लंबे समय से फिल्मी दुनिया से दूर है।


कामयाबी के परिणाम भुगतने पड़े
अनु ने अपने आउटसाइडर होने के कारण जो खामयाजा भुगता उसका बुरा एक्सपीरिएंस शेयर किया। एक इंटरव्यू में अनु से जब नेपोटिज्म को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा-  मुझे नहीं पता मुझे क्या कहना चाहिए। कामयाबी के परिणाम मुझे भुगतने पड़े। लोगों ने जलन, बुरा व्यवहार करना शुरू किया। मैं इसके कारण पैदा हुए हालातों में फंस गई थी। पहली फिल्म की कामयाबी का जश्न मनाने का मौका भी नहीं मिला था और इस तरह की घटनाएं सामने आने लगी थी।


खुद को किया सुशांत से कनेक्ट
अनु ने एक आउटसाइडर होने का दर्द बयां करते हुए कहा- मैं एक आउटसाइडर हूं इसीलिए सुशांत से खुद को कनेक्ट कर पा रही हूं। यहां हमेशा मुझे आउटसाइडर की तरह ट्रीट किया जाता है। मेरे साथ कोई गॉडफादर नहीं था, जो साथ खड़ा हो और जो लोग साथ खड़े थे, वो बदले में कुछ चाहते थे, जिसके लिए मैं तैयार नहीं थी। 


अवॉर्ड से भी धोना पड़ा हाथ
अनु ने बताया कि उन्हें आउटसाइडर होने के कारण अवॉर्ड से भी हाथ धोना पड़ा था। उनका नाम एक अवॉर्ड के नॉमिनेशन से महज इसीलिए हटाया गया था क्योंकि ज्यूरी मेंबर उन्हें जानते नहीं थे। इस बात से वे काफी निराश हुईं और रात भर रोती रहीं। इसके बारे में मैंने किसी को नहीं बताया। मैंने खुद से पूछा- मेरी कोई वैल्यू नहीं है। इसके पीछे कारण क्या है? क्या ईर्ष्या तो नहीं है?" 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios