Asianet News HindiAsianet News Hindi

साइरस मिस्त्री की मौत के वक्त साथ था पंडोले परिवार, इस फैमिली के बिजनेस को पेप्सी ने किया था टेकओवर

रविवार को साइरस मिस्त्री अपनी मर्सिडीज कार से आ रहे थे। मुंबई-अहमदाबाद हाईवे पर पालघर के कासा के पास डिवाइडर से उनकी गाड़ी टकरा गई। कार में चार लोग सवार थे। इस हादसे में साइरस मिस्त्री समेत दो लोगों की मौत हो गई।

Cyrus Mistry very close Pandole family history, Udwada Fire temple of Parsis where Cyrus Mistry visited before death, DVG
Author
First Published Sep 5, 2022, 12:21 AM IST

Cyrus Mistry accident: बिजनेस वर्ल्ड के यूथ टाइकून, टाटा ग्रुप के पूर्व चेयरमैन साइरस मिस्त्री की रविवार को कार दुर्घटना में मौत हो गई। एक्सीडेंट के समय साइरस मिस्त्री के साथ कार में तीन अन्य लोग भी थे। इस एक्सीडेंट में साइरस मिस्त्री व जहांगीर पंडोले की मौत हो गई। दरअसल, पंडोले परिवार का साइरस मिस्त्री के घर से काफी घनिष्ठ संबंध था। कार में डॉ.अनायता पंडोले, उनके पति दरीयस पंडोले और दरीयस के बड़े भाई जहांगीर दिनशा पंडोले अन्य लोगों में शामिल थे। जानते हैं कौन हैं पंडोले परिवार जो साइरस मिस्त्री की अंतिम कार यात्रा में साथ रहा।

कहां गए थे साइरस मिस्त्री और पंडोले फैमिली?

टाटा ग्रुप के पूर्व चेयरमैन साइरस मिस्त्री रविवार को दोपहर में अहमदाबाद से मुंबई वापस आ रहे थे। कार अहमदाबाद-मुंबई हाइवे पर एक डिवाइडर से टकराकर दुर्घटनाग्रस्त हो गई। इसमें साइरस मिस्त्री व जहांगीर दिनशा पंडोले की मौत हो गई। दरअसल, साइरस मिस्त्री अपने तीन अन्य दोस्तों यानी पंडोले परिवार के सदस्यों के साथ गुजरात के उदवाड़ा गए थे। यहां पारसियों का प्रमुख अग्नि मंदिर है। बताया जा रहा है कि पंडोले भाइयों के पिता की मृत्यु के बाद सभी लोग उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करने गए थे। 

मिस्त्री परिवार पर है इस प्रसिद्ध मंदिर की देखरेख का जिम्मा

पारसी समाज का मुख्य अग्नि मंदिर उदवाड़ा में स्थित है। इस अग्निमंदिर को करीब एक साल पहले ही समाज के लोगों के लिए खोला गया है। इस मंदिर का जीर्णोद्धार कुछ साल पहले ही साइरस मिस्त्री परिवार ने कराया है। इस अग्निमंदिर के जीर्णोद्धार में काफी लागत आई है जिसे मिस्त्री ने ही वहन किया था।

पंडोले परिवार के सदस्यों में कौन किस पद पर?

पंडोले परिवार भी पारसी समाज से ताल्लुक रखता है। डॉ.अनायता पंडोले पेशे से डॉक्टर हैं। वह मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में स्त्री रोग विशेषज्ञ हैं। अनायता पंडोले के पति दरीयस पंडोले भी बिजनेसमैन हैं। वह मुंबई के जेएम फाइनेंशियल प्राइवेट इक्विटी के एमडी व सीईओ हैं। 

टाटा ग्रुप में स्वतंत्र निदेशक रहे हैं दरीयस

दरीयस पंडोले, टाटा ग्रुप की फर्मों के एक स्वतंत्र निदेशक भी थे और उन्होंने टाटा संस के अध्यक्ष के रूप में साइरस मिस्त्री को हटाने का विरोध किया था। साइरस मिस्त्री को हटाए जाने के बाद उन्होंने पद से इस्तीफा दे दिया था। पंडोला परिवार बड़े बिजनेस फैमिली के रूप में जाना जाता है।

पेप्सी ने टेकओवर किया था पंडोले परिवार का बिजनेस

पंडोले परिवार के पास ड्यूक का स्वामित्व था। यह कंपनी मंगोला कोल्ड ड्रिंक बनाती थी। करीब दो दशक पहले ही पेप्सी ने यह कारोबार पंडोले परिवार के सदस्य दिनशॉ पंडोले से खरीदा था। दिनशॉ पंडोले, दरीयस व जहांगीर पंडोले के पिता थे। पिछले हफ्ते ही उनका निधन हुआ था।

डॉ.अनायता ने अवैध होर्डिंग्स के खिलाफ चलाया था अभियान

ब्रीच कैंडी अस्प्ताल में स्त्री रोग स्पेशलिस्ट डॉ.अनायता पंडोले ने मुंबई में कई तरह की सामाजिक गतिविधियों में भी शामिल रहीं हैं। 55 वर्षीय अनायता पंडोले अवैध होर्डिंग्स के खिलाफ अभियान में शामिल थीं। इस अभियान के बाद उनका नाम सुर्खियों में आया था। वह पारसी समाज की प्रमुख संस्था जियो पारसी संस्थापकों में एक थीं। जियो पारसी, पारसी समुदाय की घटती जनसंख्या को रोकने के लिए एक अभियान थी।

कैसे हुई दुर्घटना?

एक पुलिस अधिकारी ने मीडिया को बताया कि डॉ.अनायता गाड़ी ड्राइव कर रहीं थीं। कार काफी तेज गति से आ रही थी। कार को बाएं से किसी दूसरी गाड़ी को ओवरटेक करने की कोशिश की। इसी दौरान गाड़ी अनियंत्रित होकर डिवाइडर से टकरा गई। एक्सीडेंट इतना भीषण था कि साइरस मिस्त्री और जहांगीर दिनशा पंडोले की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि डॉ.अनायता पंडोले व उनके पति दरीयस पंडोले गंभीर रूप से घायल हो गए। एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि एक्सीडेंट के दस मिनट बाद मदद पहुंची। दोनों शवों को निकाला गया जबकि दोनों घायलों को अस्पताल भेजा गया।

यह भी पढ़ें:

कौन हैं साइरस मिस्त्री जिनकी रोड एक्सीडेंट में चली गई जान, टाटा ग्रुप से हुए विवाद में जुड़ा है इनका नाम

कौन हैं साइरस मिस्त्री की कार चला रही महिला, प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कैसे हुआ एक्सीडेंट...

Tata Group के पूर्व चेयरमैन साइरस मिस्त्री का निधन, रोड एक्सीडेंट में गंवाई जान

साइरस मिस्त्री की मौत के बाद टाटा ग्रुप के चेयरमैन एन.चंद्रशेखरन ने कही यह बात, मशहूर हस्तियों ने जताया शोक

बेंगलुरु में जाम से आईटी कंपनियों को 225 करोड़ रुपये की चपत, ORR में 5 घंटे फंसे रहे कर्मचारी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios