Asianet News HindiAsianet News Hindi

Term Life Insurance खरीदने से पहले ना करें 5 गलतियां, वर्ना हो सकता है नुकसान

जो लोग कम अवधि‍ वाला टर्म लाइफ इंश्‍योरेंस (Term Life Insurance) प्‍लान चुनते हैं, उन्‍हें नुकसान भी हो सकता है। अगर आप 25 साल की उम्र में 20 साल के लिए टर्म प्लान चुनते हैं, तो यह आपको 45 साल की उम्र तक कवर करेगा।

Do not make 5 mistakes before buying Term Life Insurance, otherwise there may be loss
Author
New Delhi, First Published Nov 22, 2021, 9:45 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्‍क। टर्म लाइफ इंश्योरेंस (Term Life Insurance) लांग टर्म में अपने परिवार की फाइनेंशियल भलाई को सुरक्षित करने का सबसे अच्छा तरीका है। टर्म इंश्‍योरेंस कॉस्‍ट इफेक्‍टिव होने के साथ काफी आसान भी है। फाइनेंश‍ियल डि‍पेंडेंट वाले प्रत्येक व्यक्ति को किसी अन्य इंवेस्‍टमेंट के बारे में सोचने से पहले एक टर्म प्लान खरीदने पर विचार करना चाहिए। लाइफ इंश्‍योरेंस पॉलिसी खरीदने के पीछे का मकसद किसी के वित्तीय स्वास्थ्य की रक्षा करना है। यह कमाने वाले की अचानक मृत्यु के केस में बच्‍चों की शादी, हायर एजुकेशन, सेवानिवृत्ति बचत आदि जैसे दीर्घकालिक और अल्पकालिक फाइनेंश‍ियल टारगेट को पूरा करने में मदद करते हैं। आज हम आपको बताने जा रहे हैं क‍ि आख‍िर अपने टर्म लाइफ इंश्‍योरेंस को खरीदने से पहले किन गलति‍यों को नहीं करना चाहिए।

इनसफ‍िश‍िएंट टर्म इंश्‍योरेंस कवर
यह देखा गया है कि बहुत से लोग अपनी जरूरतों का गलत अनुमान लगाते हैं और परिणामस्वरूप, कम कवर का चयन करते हैं। जब आप एक टर्म इंश्योरेंस प्लान चुनते हैं, तो आपको एक ऐसे कवर पर विचार करना चाहिए जो आपकी वार्षिक आय का कम से कम 8 से 10 गुना हो। साथ ही, सुनिश्चित करें कि यदि आपके परिवार को अधिक धन की आवश्यकता हो तो आपका कवर बढ़ाया जा सकता है।

छोटी पॉलिसी अवधि
यह सबसे आम गलतियों में से एक है जो लोग टर्म प्लान चुनते समय करते हैं। कम पॉलिसी अवधि वाला बीमा आपको गलत निर्णय लेने दे सकता है। अगर आप 25 साल की उम्र में 20 साल के लिए टर्म प्लान चुनते हैं, तो यह आपको 45 साल की उम्र तक कवर करेगा। दावों के सुचारू प्रोसेसिंग के लिए सभी महत्वपूर्ण सूचनाओं का खुलासा करना बहुत महत्वपूर्ण है। इनमें कोई भी पूर्व-मौजूदा चिकित्सा स्थिति, पारिवारिक चिकित्सा इतिहास, धूम्रपान जैसे जोखिम भरे जीवन शैली विकल्प और खतरनाक व्यवसायों में शामिल हो सकते हैं।

क्‍लेम सेटलमेंट रेश्‍यो की जांच ना करना
बीमाकर्ता चुनते समय सबसे महत्वपूर्ण कारकों में से एक कंपनी का क्‍लेम सेटलमेंट रेश्‍यो जानना है। क्‍लेम सेटलमेंट रेश्‍यो एक माप है जिसका उपयोग दावों के भुगतान के संदर्भ में बीमा कंपनी की विश्वसनीयता का आकलन करने के लिए किया जाता है। यह आपको यह जानकर मन की शांति देगा कि आपका मृत्यु दावा यदि कभी आएगा तो आपके प्रियजनों को बिना किसी परेशानी के भुगतान किया जाएगा। इसके अलावा, क्‍लेम सेटलमेंट का प्रोसेस थकाऊ नहीं होनी चाहिए और ग्राहक को परेशानी मुक्त अनुभव होना चाहिए। क्‍लेम सेटलमेंट रेश्‍यो कंपनी के समग्र प्रदर्शन को समझने में भी मदद करता है। इसलिए, बीमा कंपनी का चयन करते समय यह आपको बेहतर निर्णय लेने में मदद करता है।

यह भी पढ़ें:- Petrol Diesel Price, 22 Nov 2021, क्रूड ऑयल की कीमत में लगातार गिरावट, भारत में पेट्रोल और डीजल के दाम स्‍थि‍र

रिसर्च वर्क ना करना
टर्म पॉलिसी खरीदने से पहले, आपको सही सम एश्योर्ड और एक किफायती प्रीमियम चुनने के लिए उचित शोध करना चाहिए। यदि आप अपनी टर्म प्लान का अधिकतम लाभ उठाना चाहते हैं, तो सुनिश्चित करें कि आपने योजना का ध्यानपूर्वक अध्ययन किया है और अतिरिक्त कवरेज का चयन किया है।

यह भी पढ़ें:- Post Office Monthly Income Scheme: हर महीने होगी कमाई, टैक्‍स से भी होगी बचत, जानिए कितना करना होगा निवेश

अत्यधिक रायडर्स का चयन
यदि आप पॉलिसी का अधिकतम लाभ उठाना चाहते हैं, तो ऐड-ऑन हमेशा उपयोगी होते हैं। एक अनावश्यक संख्या के कारण प्रीमियम हाई हो सकता है, जिसकी आपको भविष्य में आवश्यकता नहीं हो सकती है। आप चाहें तो ऐड-ऑन ही ख़रीदें, नहीं तो छोड़ दें। यह आपकी पॉलिसी को और अधिक किफायती बना देगा। एक और गलती जो ज्यादातर लोग करते हैं, वह है अपने फैसले में देरी करना और इंतजार करना।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios