Asianet News HindiAsianet News Hindi

चीन की iPhone फैक्ट्री में हुए हिंसक विरोध के बाद Foxconn ने माफी मांगी, टेक्निकल एरर का किया जिक्र

इस घटना के कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है जिनमें वर्कर्स ने कहा कि उन्हें सूचित किया गया था कि फॉक्सकॉन का इरादा बोनस भुगतान में देरी करना है। इसके अलावा उन्हें COVID टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए कर्मचारियों के साथ Dormitories में सोने के लिए मजबूर किया जा रहा था।

Electronics industry company Foxconn Apologises After Violent Protests Over Pay At China iPhone Factory AKA
Author
First Published Nov 24, 2022, 11:19 AM IST

टेक न्यूज. Foxconn Apologises Violent Protests at Chinese iPhone Factory: Apple की मेजर सप्लायर कंपनी फॉक्सकॉन (Foxconn) ने गुरुवार को कहा कि चीन में COVID से प्रभावित एक iPhone फैक्ट्री में नए रिक्रूट्स की Hiring के दौरान एक 'टेक्निकल एरर' हुई और इसके बाद हिंसा फैल गई, जिसके लिए कंपनी अपने सभी कर्मचारियों से माफी मांगती है। बता दें कि बुधवार को मध्य चीन के झेंग्झौ शहर (Zhengzhou city) में फॉक्सकॉन की आईफोन फैक्ट्री (iPhone Plant) में हिंसक विरोध प्रदर्शन हुआ था। यहां विरोध कर रहे फॉक्सकॉन के कर्मचारियों का कहना था कि उन्होंने कोरोना काल में लगे लॉकडाउन के दौरान भी काम किया था मगर कंपनी उन्हें बोनस देने में देरी कर रही है। इस विरोध के दौरान कर्मचारी सुरक्षाबलों और कंपनी के अधिकारियों से भी भिड़ गए।

सभी को सहमति के समान ही दिया जाएगा वेतन
फॉक्सकॉन ने अपने एक बयान में नए कर्मचारियों को काम पर रखने का जिक्र करते हुए कहा, 'हमारी टीम इस मामले की पड़ताल कर रही है और हमें ऑनबोर्डिंग प्रक्रिया के दौरान एक टेक्निकल एरर होने का पता चला है। हम कंप्यूटर सिस्टम में हुए इस एक इनपुट एरर के लिए सभी से माफी मांगते हैं और गारंटी देते हैं कि सभी का वास्तविक वेतन उनकी सहमति और ऑफिशियल रिक्रूटमेंट पोस्टर्स के समान ही है।

Electronics industry company Foxconn Apologises After Violent Protests Over Pay At China iPhone Factory AKA

घटना के कई वीडियो हुए वायरल
इस घटना के कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है जिनमें वर्कर्स ने कहा कि उन्हें सूचित किया गया था कि फॉक्सकॉन का इरादा बोनस भुगतान में देरी करना है। कुछ श्रमिकों ने यह भी शिकायत की कि उन्हें उन सहयोगियों के साथ dormitories शेयर करने के लिए मजबूर किया गया हाल ही में हुए COVID टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए हैं। वहीं कुछ कर्मचारियों ने शिकायत की उन्हें डर है कि सेंट्रल हेनान प्रांत के इस बड़े से इंडस्ट्रियल कैंपस में क्वारंटीन होने के दौरान उन्हें भोजन मिलेगा भी या नहीं। एक अन्य व्यक्ति ने तो यहां तक कहा कि फॉक्सकॉन कभी भी इंसानों को इंसान नहीं मानता।

'केयर  सब्सिडी' ऑफर करेगी कंपनी
इस मामले से परिचित फॉक्सकॉन से जुड़े एक सोर्स ने Reuters को बताया कि चीन में हुआ यह सबसे बड़ा विरोध गुरुवार तक खत्म हो गया था और कंपनी छोटे विरोध प्रदर्शनों पर जुटे हुए कर्मचारियों के साथ बातचीत कर रही थी। सूत्रों की मानें तो कंपनी इस विवाद को सुलझाने के लिए कर्मचारियों के साथ 'प्रारंभिक समझौते' पर पहुंच गई थी और प्लांट में गुरुवार को भी प्रोडक्शन जारी रहा। कंपनी ने कहा है कि वह नए recruits की इच्छाओं का सम्मान करेगी और जो इस्तीफा देकर फैक्ट्री कैंपस छोड़ना चाहते हैं उन्हें वह 'केयर सब्सिडी' ऑफर करेगी।

Electronics industry company Foxconn Apologises After Violent Protests Over Pay At China iPhone Factory AKA

0.5% गिरे फॉक्सकॉन के शेयर
वहीं इस पूरे मामले के चलते गुरुवार सुबह फॉक्सकॉन के शेयर 0.5% गिर गए, जबकि व्यापक बाजार (broader market) में 0.5% की बढ़त हुई। बता दें कि चीन के झेंग्झौ स्थित फॉक्सकॉन प्लांट में iPhone 14Pro और Pro Max सहित Apple Inc डिवाइस बनाने के लिए 200,000 से अधिक कर्मचारी काम करते हैं। वहीं बात करें कोविड की तो चीन में अभी भी इसका कहर जारी है। बुधवार को यहां  COVID के 31,444 नए डेली केस रिकॉर्ड हुए।

और पढ़ें...

छंटनी की रेस में शामिल हुई कम्प्यूटर हार्डवेयर कंपनी HP, 6 हजार कर्मचारियों को करेगी बाहर

बड़े-बड़े स्मार्टफोन्स को फेल कर देगा यह ट्रांसपेरेंट स्मार्टफोन, देखें ये वायरल वीडियो

Amazon Layoff: इंडियन लेबर मिनिस्ट्री ने जारी किया समन, NITES ने कहा- 'कर्मचारियों पर दबाव बना रही है कंपनी'

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios