Asianet News Hindi

बिहार में 1 लाख प्राइमरी टीचर्स बहाली का नया शेड्यूल जारी, बीसीए और इंजीनियरिंग डिग्री वाले भी बन सकेंगे टीचर

बिहार में एक लाख पदों पर प्राइमरी टीचर्स की बहाली का नया शेड्यूल जारी हो गया है। खास बात है कि अब बीसीए और इंजीनियरिंग डिग्रीधारी भी टीचर बन सकेंगे।

1 lakh primary teachers to be appointed in Bihar, candidates with BCA and engineering degree also can apply
Author
Patna, First Published Sep 14, 2019, 3:50 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटना। बिहार में प्राइमरी टीचर्स के एक लाख पदों पर बहाली का नया शेड्यूल जारी कर दिया गया है। अब इसके लिए आवेदन-प्रक्रिया 18 सितंबर से शुरू होगी। वहीं, चयनित उम्मीदवारों को 16 जनवरी, 2020 को नियुक्ति पत्र दे दिए जाएंगे। बता दें कि इसके पहले शिक्षा विभाग ने 5 जुलाई को प्राइमरी टीचर्स की बहाली का कार्यक्रम घोषित किया था, जिसके तहत 26 अगस्त से 25 सितंबर तक एप्लिकेशन लिए जाने थे और 9 से 12 दिसंबर तक नियुक्ति की जानी थी। अब किए गए बदलावों के तहत बीसीए और इंजीनियरिंग डिग्रीधारी भी प्राइमरी टीचर बन सकेंगे।

कमेटी ने की अनुशंसा
इस साल जुलाई में जारी निर्देशों के बाद शिक्षा विभाग को भारी संख्या में आवेदन मिले। इसके बाद एक कमेटी गठित की गई। कमेटी ने कई अनुशंसाएं की, जिसके तहत राज्य के मिडल स्कूलों में बीसीए और इंजीनियरिंग की डिग्री रखने वाले भी शिक्षक बन सकते हैं। 

न्यूनतम योग्यता में किया गया बदलाव
अब नया शेड्यूल जारी करने के साथ ही न्यूनतम योग्यता में भी बदलाव किया गया है। जारी अधिसूचना के अनुसार, जिस उम्मीदवार ने एनसीटीई (राष्‍ट्रीय अध्‍यापक शिक्षा परिषद) से मान्यता प्राप्त संस्थान से बीएड की डिग्री हासिल की है, उसे प्राइमरी कक्षाओं में पढ़ाने के लिए नियुक्त किया जा सकता है। लेकिन निय़ुक्ति के दो वर्ष के भीतर ऐसे शिक्षकों को एनसीटीई से मान्यता प्राप्त संस्थान से प्राइमरी एजुकेशन में 6 महीने का ब्रिज कोर्स करना होगा।   

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios