Asianet News HindiAsianet News Hindi

CBSE के 10वीं-12वीं पैटर्न में बदलाव, जानिए लोकसभा में निशंक ने क्या जानकारी दी?

सीबीएसई ने 10वीं और 12वीं कक्षा के पैटर्न मेन बड़ा बदलाव किया है ये बदलाव स्टूडेंट्स की सोच और तर्क क्षमता को बढ़ाने के लिए किया गया है इसे 2019-20 के सत्र से लागू किया जाएगा 
 

Change in 10th-12th pattern of CBSE, know what information Nishank gave in Lok Sabha
Author
New Delhi, First Published Dec 3, 2019, 4:36 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने 10वीं और 12वीं कक्षा के पैटर्न मेन बड़ा बदलाव किया है। ये बदलाव स्टूडेंट्स की सोच और तर्क क्षमता को बढ़ाने के लिए किया गया है। इसे 2019-20 के सत्र से लागू किया जाएगा। 

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने लोकसभा में सांसद केशरी देवी पटेल और चिराग पासवान द्वारा उठाए सवाल के जवाब में बताया, "केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने छात्रों की गहन सोच और तर्क क्षमता को बढ़ाने के लिए 2019-2020 सत्र से 10वीं और 12वीं कक्षा के पैटर्न में बदलाव किए हैं प्रश्नपत्र में 20 प्रतिशत सवालों को बहुविकल्पीय और 10 प्रतिशत सवालों को रचनात्मक बनाया जाएगा।'' 

1 नंबर वाले 25 फीसदी वैकल्पिक प्रश्न

सभी सवालों के 33 प्रतिशत हिस्से में स्टूडेंट्स को इं‍टरनल ऑप्शन मिलेगा।"अब हर विषय के पेपर में 1 नंबर वाले 25 फीसदी वैकल्पिक प्रश्न होंगे। जिन विषयों में प्रैक्टिकल नहीं हैं, उनमें इंटरनल असेसमेंट लिया जाएगा। ये 20 नंबर का होगा 2020 में होने वाली 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाओं में भी ये बदलाव लागू होंगे।

CBSE इस बारे में कुछ दिनों पहले सर्कुलर भी जारी किया था। इसके मुताबिक 10वीं में छात्र को पास होने के लिए हर सब्जेक्ट में प्रैक्टिकल और थ्योरी से कुल 33 प्रतिशत अंक लाने होंगे। 

(यह खबर समाचार एजेंसी भाषा की है, एशियानेट हिंदी टीम ने सिर्फ हेडलाइन में बदलाव किया है।)

(फाइल फोटो)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios