Asianet News HindiAsianet News Hindi

Childrens Day 2021: पहले 20 नवंबर को मनाया जाता था बाल दिवस, जानें क्यों बदली गई थी इसकी तारीख

 चिल्‍ड्रेंस डे (childrens Day)  भारत के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू (Pandit jawaharlal nehru)  की जयंती के मौके पर मनाया जाता है। 

Childrens Day 2021 Pandit Jawahar Lal Nehru Jayanti facts about this day celebrated on Chacha Nehru Birthday pwt
Author
New Delhi, First Published Nov 14, 2021, 7:00 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

करियर डेस्क. चिल्‍ड्रेंस डे (childrens Day) अथवा बाल दिवस पूरे देश में 14 नवंबर को मनाया जाता है। यह दिन भारत के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू (Pandit jawaharlal nehru)  की जयंती के मौके पर मनाया जाता है। बाल दिवस (Bal Diwas) के दिन स्कूलों में पढ़ाई की जगह खेलकूद या फिर अलग-अलग कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। पंडित नेहरू को बच्चों से काफी लगाव था और इसलिए बच्चे उन्हें प्यार से चाचा नेहरू के नाम से बुलाया करते थे। आइए जानते हैं बाल दिवस से जुड़े कुछ रोचक फैक्ट्स। 


UN ने पहले 20 नवंबर, 1954 को बाल दिवस मनाने का ऐलान किया था और भारत पंडित जवाहरलाल नेहरू के निधन से पहले 20 नवंबर को ही बाल दिवस मनाया जाता था। लेकिन, चाचा नेहरू के निधन के बाद से 14 नवंबर को चाचा नेहरु के जन्मदिवस पर ही बाल दिवस मनाया जाने लगा। विभिन्न देशों में अलग-अलग तारीखों पर बाल दिवस मनाया जाता है। भारत में बाल दिवस 1964 में प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के निधन के बाद से मनाया जाने लगा। सर्वसहमति से ये फैसला लिया गया कि नेहरू के जन्मदिन पर बाल दिवस मनाया जाएगा। वैसे तो बाल दिवस साल 1925 से ही मनाया जाने लगा था।

14 नवंबर ही क्यों
1964 में जवाहरलाल नेहरू के निधन के बाद भारत में 14 नवंबर को 14 दिवस मनाने का ऐलान किया गया। नेहरु के निधन से पहले भारत में भी 20 नवंबर को ही ये खास दिन मनाया जाता था। 14 नवंबर 1889 को नेहरु का जन्म हुआ था और उन्हें बच्चों और गुलाब के फूलों से बहुत प्यार था। उन्हें बच्चे प्यार से चाचा नेहरू कहा करते थे।

क्यों मनाया जाता है ये दिन
बाल दिवस का उद्देश्य पंडित नेहरू को श्रद्धांजलि देने के अलावा बच्चों के अधिकारों, देखभाल और शिक्षा के प्रति जागरूकता को बढ़ाना भी है। जवाहरलाल नेहरू के शब्दों में,  आज के बच्चे कल का भारत बनाएंगे। जिस तरह से हम उन्हें पालेंगे, वही देश का भविष्य तय करेगा।

बाल दिवस पर क्या किया जाता है
बाल दिवस पर स्कूलों की छुट्टी नहीं होती, लेकिन बच्चों के लिए स्पेशल कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है। स्कूलों में छात्रों को गिफ्ट्स दिए जाते हैं। इस दिन स्कूलों में पढ़ाई भी नहीं होती है। कई स्कूल इस दिन बच्चों को पिकनिक पर लेकर जाते हैं।

इसे भी पढ़ें- 

Upsc Interview Tricky Questions: पेंसिल में HB क्यों लिखा होता है? कैंडिडेट्स ने बताया लॉजिक

WCL Recruitment 2021: वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड में बंफर वैकेंसी, 35 हजार रुपए मिलेगी सैलरी, ऐसे करें अप्लाई

UPSC Interview Tricky Questions: मोदी 2024 का चुनाव नहीं लड़े तो आपका पीएम कौन होगा? जानें जवाब

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios