Asianet News Hindi

पार्ट टाइम जॉब से बढ़ता है एक्सपीरियंस, होगा आगे करियर में फायदा

पार्ट टाइम जॉब करना अक्सर आगे के करियर के लिहाज से ठीक रहता है। इससे एक्सपीरियंस तो मिलता ही है, आत्मविश्वास भी बढ़ता है।

Experience increases with part-time jobs, will benefit in career ahead
Author
New Delhi, First Published Sep 29, 2019, 3:19 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। आजकल पार्ट टाइम जॉब का ट्रेंड बढ़ रहा है। समय मिलने पर पार्ट टाइम जॉब करना हर लिहाज से ठीक रहता है। इससे एक्सपीरियंस तो मिलता ही है, साथ ही आत्मविश्वास भी बढ़ता है। रेग्युलर पढ़ाई करने के दौरान पार्ट टाइम जॉब करना थोड़ा कठिन तो होता है, पर अगर आप डिस्टेंस एजुकेशन के जरिए पढ़ाई कर रहे हैं तो आसानी से पार्ट टाइम जॉब कर सकते हैं। रेग्युलर पढ़ाई करने वाले स्टूडेंट भी ऑनलाइन कंटेंट राइटिंग का काम कर सकते हैं। कई कंपनियां इस तरह की राइटिंग के लिए पेमेंट करती हैं। यह काम घर पर रहते हुए ही किया जा सकता है। अगर आपको दो भाषाओं की अच्छी जानकारी हो तो घर बैठे ट्रांसलेशन का काम करके अच्छी कमाई कर सकते हैं। कई पब्लिकेशन हाउसेस को ऐसे लोगों की जरूरत रहती है जो पार्ट टाइम उनके लिए अनुवाद का काम कर सकें।

जिस फील्ड में हों, उसी में करें पार्ट टाइम जॉब
आप जिस फील्ड में एजुकेशन ले रहे हों या ट्रेनिंग कोर्स कर रहे हों, उसी में पार्ट टाइम जॉब करना ज्यादा बढ़िया रहता है। इससे आपको उस फील्ड का बढ़िया एक्सपीरियंस हासिल हो जाता है, जिससे भविष्य में उस क्षेत्र में आपको अच्छी नौकरी मिल सकती है। पार्ट टाइम जॉब को एक तरह से ट्रेनिंग समझना चाहिए। इससे कमाई तो होती ही है, आगे करियर की राह भी आसान हो जाती है।

वर्क कल्चर को समझने में मिलती है मदद
अगर किसी कंपनी में आपको पार्ट टाइम जॉब करने का मौका मिलता है तो इससे आपको वर्क कल्चर को समझने में मदद मिलती है। इससे आपको जो एक्सपोजर मिलता है, उससे भविष्य में काफी फायदा होता है। पार्ट टाइम काम करते हुए आप कई जरूरी बातें सीख लेते हैं। इससे आपको वर्क डिसिप्लिन की भी जानकारी मिलती है। साथ ही, पार्ट टाइम जॉब करने से आपमें टाइम मैनेजमेंट, टीम वर्क, क्रिएटिविटी, मल्टी टास्किंग और लीडरशिप की क्वालिटी भी बढ़ती है। 

बैलेंस बनाना जरूरी
अगर आप पार्ट टाइम जॉब करते हैं तो आपको अपनी पढ़ाई और काम में संतुलन बना कर चलना होगा। यह देखना होगा कि आपकी पढ़ाई या ट्रेनिंग को कोई नुकसान नहीं पहुंचे। सिर्फ पैसा कमाना पार्ट टाइम जॉब का मकसद नहीं होना चाहिए। आपको यह देखना होगा कि पार्ट टाइम जॉब में कितना समय लगाएं और पढ़ाई में कितना। कई कंपनियों में काम का शेड्यूल ऐसा होता है कि आप अपने संस्थान में पढ़ाई करने के बाद वहां जॉब कर सकते हैं। लेकिन जरूरी नहीं कि हमेशा स्थिति आपके अनुकूल ही हो। ऐसी स्थिति में आपको अपनी पढ़ाई को तरजीह देना होगा। लेकिन अनुवाद या ऑनलाइन कंटेंट राइटिंग का काम आप घर से कभी भी कर सकते हैं।     

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios