Asianet News HindiAsianet News Hindi

Gandhi Jayanti 2022: गांधी जी से सीखें सफल होने के मंत्र, ये पांच बातें हर छात्र को सीखनी चाहिए

आज दो अक्टूबर को महात्मा गांधी की जयंती है। उनका पूरा जीवन ही प्रेरणा है। कई बड़ी महान हस्तियों ने भी बापू के बताए मार्ग को अपना और जीवन में सफल रहे। हर छात्र को सफलता पाने के लिए गांधी जी से सीख लेनी चाहिए।   

Gandhi Jayanti 2022 student must learn these things from mahatma gandhi for success stb
Author
First Published Oct 2, 2022, 8:57 AM IST

करियर डेस्क : आज महात्मा गांधी की जयंती (Gandhi Jayanti 2022) है। अहिंसा दिवस के तौर पर मनाए जाने वाला आज का दिन बेहद खास है। बापू एक ऐसे संत थे, जो हमेशा ही अहिंसा की मार्ग पर चले और दूसरों को भी इसी राह को अपनाने के लिए प्रेरित किया। उनकी महानता से हर कोई वाकिफ है। महात्मा गांधी मैनेजमेंट के महारथी माने जाते थे। उन्होंने अथक परिश्रम और प्रयास से भारत को आजादी दिलाई। वे दुनिया में कई महान हस्तियों के भी आइकन हैं। पीढ़ी दर पीढ़ी उनकी बातें आज भी सफलता के मार्ग पर आगे बढ़ाती है। अर किसी छात्र को जीवन में सक्सेस चाहिए तो उन्हें महात्मा गांधी की इन पांच बातों को जीवन में उतार लेनी चाहिए। मोहनदास करमचंद गांधी से सीखिए सफलता के मंत्र..

सकारात्मक सोचें
महात्मा गांधी ने हमेशा ही सिखाया कि हमें हर स्थिति में पॉजिटिव ही सोचना चाहिए। वे हमेशा कहते रहे कि हर किसी को एक ही जीवन मिला है। इसलिए इसे पूरी तरह से जीना चाहिए और सकारात्मक सोच के साथ खुद पर भरोसा करना चाहिए.

हमेशा सत्य बोलें,  क्षमा करना सीखें
महात्मा गांधी जीवनभर सत्य की मार्ग पर चलें। उन्होंने कभी झूठ नहीं बोला और दूसरे से भी सत्य बोलने को कहा। वे कहते थे कि हमेशा सच बोलना चाहिए और क्षमा करने की आदत बनानी चाहिए। इससे इंसान कभी असफल नहीं हो सकता।

खुद से शुरू करें बदलाव
बापू हमेशा ही बदलाव के अगुवा रहे। वे जीवनभर कहते थे कि हर इंसान को बदलाव की आवश्यकता होती है। लेकिन अगर आप संसार में बदलाव देखना चाहते हैं तो इसकी शुरुआत खुद से करनी पड़ेगी। इसलिए दूसरे से पहले खुद को बदलें और फिर समाज को बदलने का प्रयास करें।

करने से पहले सोचें
महात्मा गांधी जी का पूरा जीवन ही अनुकरणीय है। उन्हें फॉलो करने वाला कोई भी छात्र कभी भी असफल हो ही नहीं सकता। वे कहते थे कि अगर आप कुछ करने जा रहे हैं तो उसे करने से पहले अच्छे से सोच विचार करना चाहिए। जब आप ऐसा करेंगे तो आपको परिणाम भी दिखाई देंगे।

भोजन और सेहत का आदर करें
बापू खाना की बर्बादी रोकने का आह्वान करते थे। वे कहते थे कि भोजन का हमेशा ही आदर करना चाहिए। उसे बर्बाद करने से बचना चाहिए। महात्मा गांधी सेहत को लेकर भी काफी सजग रहने को कहते थे। उनका कहना था कि आप ही हैं जो खुद का और धरती का ख्याल रख सकते हैं।

इसे भी पढ़ें
2 अक्टूबर : इतिहास में खास है आज का दिन, महात्मा गांधी, लाल बहादुर शास्त्री का जन्म, ये घटनाएं भी घटीं

महात्मा गांधी जयंती: बापू के इन 10 अनमोल वचन आपके जीवन के लिए है बहुत जरूरी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios