Asianet News HindiAsianet News Hindi

गोवा: 9वीं क्लास की नेवी स्कूल की छात्रा ने जीता विद्यार्थी विज्ञान मंथन, पहले स्थान पर रहे यूपी के छात्र

नेवी चिल्ड्रन स्कूल, गोवा की कक्षा 9 की छात्रा अहाना सांगुई ने विद्यार्थी विज्ञान मंथन (वीवीएम) में दूसरा स्थान हासिल किया है। वहीं, पहले स्थान पर उत्तर प्रदेश के बाल भारती पब्लिक स्कूल के अनीक कुमार हैं।

goa : Navy school student wins Vidyarthi Vigyan Manthan, UP student is on 1st position dva
Author
Goa, First Published Jun 29, 2021, 10:15 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

करियर डेस्क : नेवी चिल्ड्रन स्कूल, गोवा की कक्षा 9 की छात्रा अहाना सांगुई ने विद्यार्थी विज्ञान मंथन (VVM) में दूसरा स्थान हासिल किया है। ये एनसीईआरटी द्वारा विजनाना के सहयोग से आयोजित की जाने वाली फेमस नेशनल लेवल के भारती और विज्ञान प्रसार प्रतियोगिता है। जिसका उद्देश्य स्कूली बच्चों में विज्ञान में रुचि पैदा करना और उन्हें विज्ञान और प्रौद्योगिकी की दुनिया में भारत के योगदान के बारे में बताना है। 

इस नेशनल लेवल प्रतियोगिता (Vidyarthi Vigyan Manthan) में प्रतिभागियों का मूल्यांकन एक ही क्लास के साथियों के साथ किया गया था। विभिन्न चरणों जैसे स्कूल, राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर कई सारी टेस्ट प्रक्रियाओं से गुजरने के बाद प्रत्येक राज्य के टॉप दो विजेताओं ने राष्ट्रीय स्तर पर भाग लिया है। जिसमें 9वीं क्लास की छात्रा अहाना सांगुई ने दूसरा स्थान हासिल किया। वहीं, पहले स्थान पर उत्तर प्रदेश के बाल भारती पब्लिक स्कूल के अनीक कुमार हैं। वीवीएम के विजेताओं के लिए, कार्यक्रम में नेशनल साइंस लेब्रोरिटी और फेमस साइंस सेंटर का दौरा और प्रसिद्ध वैज्ञानिकों के साथ बातचीत भी शामिल है।

अक्टूबर 2017 में, केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी और पर्यटन राज्य मंत्री अल्फोंस जोसेफ कन्ननथानम ने दिल्ली में एक समारोह में वीवीएम ऐप नामक एक मोबाइल ऐप लॉन्च किया गया था। उन्होंने कहा था, "विद्यार्थी विज्ञान मंथन भारत की पीढ़ी को एक बेहतर भविष्य के लिए विज्ञान और प्रौद्योगिकी के मूल्यों को जानने के लिए एक मंच प्रदान करेगा। हम चाहते हैं कि इस पीढ़ी के छात्र डिजिटल तकनीक का उपयोग करें, विज्ञान सीखें, भारत के बारे में और जानें, और विज्ञान को लोकप्रिय बनाने वाले प्रसिद्ध लोगों के बारे में जानें। मैं अपनी युवा प्रतिभाओं से अपील करता हूं कि वे हमारी भावी पीढ़ी के समग्र विकास को सुनिश्चित करने के लिए सोचें और समझें।

ये भी पढ़ें- दुनिया के टॉप 100 मेडिकल कॉलेज में भारत के 6 संस्थान, एम्स को मिला 23वां स्थान

18 साल की उम्र में पति ने छोड़ा, 6 महीने के बच्चे के साथ रोड पर बेचा नींबू पानी-आइसक्रीम..SI बन कायम की मिसाल

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios