तिरुअनंतपुरम। केरल भारत का एक ऐसा राज्य है जो शिक्षा के क्षेत्र में सबसे आगे रहा है। यह भारत का वह पहला राज्य है जहां शत-प्रतिशत साक्षरता है। फिलहाल एक सर्वे से यह पता चला है कि स्कूली शिक्षा के मामले में भी यह राज्य पूरे देश में अव्वल है। एजुकेशन वर्ल्ड इंडिया स्कूल रैंकिंग्स 2019-20 (EducationWorld India School Rankings 2019-20) में केरल के 10 सरकरी स्कूल टॉप पर रहे।इसकी रिपोर्ट पिछले शनिवार को सामने आई है।

कौन से स्कूल रहे किस पोजिशन पर
- गवर्नमेंट डे स्कूल रैंकिंग में कोझिकोड का गवर्नमेंट वोकेशनल सेकंडरी गर्ल्स स्कूल दूसरे स्थान पर रहा। यह स्कूल पिछले साल तीसरे नंबर पर रहा था। साल 2013 से ही यह स्कूल रैंकिंग में अच्छी पोजिशन पर रहा है। पब्लिक सेक्टर के स्कूलों में इस स्कूल का स्थान हमेशा से अच्छा रहा है। यह केरल का सबसे बढ़िया स्कूल माना जाता है। 

- केल्ट्रन नगर कन्नुर के केन्द्रीय विद्यालय और पुरनाटुकार त्रिसूर का केन्द्रीय विद्यालय क्रमश: गर्वनमेंट डे स्कूल की रैंकिंग में नौवें और दसवें स्थान पर रहा है। 

- चेनिताला, अलापुजा का जवाहर नवोदय विद्यालय टॉप 10 गवर्ननमेंट बोर्डिंग स्कूल कैटेगरी में तीसरे स्थान पर रहा है, जबकि पिछले साल हुए सर्वे में यह पहली पोजिशन पर था। 

- कन्नूर में चेन्दाया का जवाहर नवोदय विद्यालय सर्वे में पांचवीं पोजिशन पर रहा।

- एरनाकुलम का नेरिमंगलम स्थित जवाहर नवोदय विद्यालय सातवें स्थान पर रहा। पिछले साल हुए सर्वे में भी यह सातवीं पोजिशन पर ही रहा था।

- इंटरनेशनल डे स्कूल कैटेगरी में कोझिकोड का सदभावना वर्ल्ड स्कूल दसवीं पोजिशन पर रहा।         

किसने किया सर्वे
यह सर्वे एजुकेशन वर्ल्ड मैगजीन के लिए ओपिनियन पोल्स कंपनी ‘C fore’ ने किया और इसमें 12,213 लोगों को शामिल किया गया। इनमें स्कूलों के प्रिंसिपल, शिक्षक, एकेडेमिशियन, पेरेंट्स और सीनियर स्टूडेंट्स भी शामिल थे। इस सर्वे में भारत के 28 बड़े शहरों को शामिल किया गया। सर्वे में स्कूलों के इन्फ्रास्ट्रक्चर, फैकल्टी, एकेडेमिक रेपुटेशन, सुरक्षा और हाइजीन जैसी चीजों को पैरामीटर के रूप में रखा गया था।