Asianet News HindiAsianet News Hindi

अग्निवीर भर्ती में फर्जीवाड़ा: यूपी के 15 युवाओं ने नकली डॉक्‍यूमेंट्स बनवाएं, एमपी की रैली में शामिल हुए

पुलिस ने बताया कि पकड़े गए अभ्यर्थियों पर पहले तो शक हुआ, जब उनके डॉक्यूमेंट्स चेक किए गए तो सभी फर्जी पाएग गए। ऐसा भी हो सकता है कि फर्जी दस्तावेज बनाने वाला कोई रैकेट भी चल रहा है। क्योंकि इससे पहले भी लाल परेड ग्राउंड से आर्मी ने एक संदिग्ध को पकड़ा था।

Madhya Pradesh Bhopal Indian Army Agniveer Bharti Rally 2022 scam Candidates caught with fake documents stb
Author
First Published Nov 3, 2022, 10:42 AM IST

करियर डेस्क : अग्निपथ भर्ती योजना (Agnipath Recruitment Scheme) के तहत हो रही अग्निवीरों की भर्ती में बड़ा फर्जीवाड़ा सामने आया है। मध्‍यप्रदेश (Madhya Pradesh) की राजधानी भोपाल (Bhopal) में चल रहे अग्निवीर भर्ती रैली के दौरान यह खुलासा हुआ है। दरअसल, मोतीलाल नेहरू स्टेडियम में चल रही अग्निवीर भर्ती रैली (Agniveer Bharti Rally 2022) में फर्जी डॉक्यूमेंट्स के साथ 15 युवक पकड़ाए हैं। ये सभी फर्जी मूल निवास प्रमाण पत्र के साथ रैली में शामिल होने पहुंचे थे लेकिन आर्मी इंटेलिजेंस की नजर में आ गए। 

यूपी के रहने वाले हैं 
पकड़े गए सभी 15 युवा उत्तर-प्रदेश के रहने वाले हैं। इन पर आरोप है कि इन्होंने मयप्रदेश में फर्जी मूल निवास प्रमाण पत्र बनवाकर इस रैली में शामिल हुए। जबकि इनका निवास स्थान यूपी है। फिलहाल इनसे पुलिस और आर्मी इंटेलीजेंस की तरफ से पूछताछ चल रही है।

क्या है पूरा मामला
डीसीपी जोन-1 साईं कृष्णा ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि मोतीलाल नेहरू स्टेडियम में सेना की अग्निवीर सैनिकों की भर्ती चल रही है। एमपी के 9 जिलों के करीब 44 हजार युवा इसमें शामिल होने पहुंचेंगे। अब तक 20 हजार के करीब युवा रैली में पहुंच चुके हैं। भर्ती के 6वें दिन 15 ऐसे युवा पकड़े गए हैं, जिनके पास फर्जी निवास प्रमाण पत्र है। इन सभी के पास से फर्जी मूल निवास प्रमाण पत्र के साथ ही फर्जी मार्कशीट भी मिली है।

क्या इसके पीछे कोई रैकेट
इन फर्जी उम्मीदवारों के पकड़े जाने के बाद कई बड़े रैकेट की आशंका भी जताई जा रही है। पुलिस ने बताया कि पकड़े गए अभ्यर्थियों पर पहले तो शक हुआ, जब उनके डॉक्यूमेंट्स चेक किए गए तो सभी फर्जी पाएग गए। ऐसा भी हो सकता है कि फर्जी दस्तावेज बनाने वाला कोई रैकेट भी चल रहा है। क्योंकि इससे पहले भी लाल परेड ग्राउंड से आर्मी ने एक संदिग्ध को पकड़ा था, जो वहां खड़े होकर वीडियो बना रहा था। फिलहाल सभी मामलों की छानबीन चल रही है।

इसे भी पढ़ें
Agniveer recruitment 2023: वायुसेना में इस दिन से शुरू होगी अग्निवीर भर्ती, जनवरी में एग्जाम

SSC GD 2022: जीडी भर्ती में पांच अहम बदलाव, पेपर की टाइमिंग से प्रश्नों की संख्या तक सब बदल गया

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios