Asianet News HindiAsianet News Hindi

कहानी 12वीं फेल IPS की: गर्लफ्रेंड ने छोड़ा तो मांगा एक चांस, आज पति-पत्नी दोनों अधिकारी

कभी भी छोटी-छोटी असफलताओं और मुश्किलों से नहीं डरना चाहिए। इसकी बानगी हैं आईपीएस मनोज कुमार शर्मा, जिन्हें अपने सपने को पूरा करने के लिए कभी भिखारियों के साथ सोना पड़ा तो कभी टेंपो चलानी पड़ी लेकिन हार नहीं मानी...
 

Madhya Pradesh Morena upsc exam 12th fail IPS Manoj Kumar Sharma Success Story stb
Author
First Published Sep 30, 2022, 3:35 PM IST

करियर डेस्क : देश की सबसे कठिन परीक्षा यूपीएससी (UPSC Exam) पास करना बेहद ही कठिन है। कहते हैं कि इस एग्जाम को पास करने के लिए कई रातें जागनी पड़ती है और मेहनत के कड़े दौर से गुजरना पड़ता है। कुछ ऐसी ही मेहनत और लगन रही है आईपीएस मनोज कुमार शर्मा (IPS Manoj Kumar Sharma) की। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के मुरैना ( Morena) के रहने वाले मनोज कभी भी पढ़ने में तेज नहीं रहे। घर में गरीबी थी तो बचपन ही कठिनाईयों से गुजरा लेकिन गर्लफ्रेंड की मदद से उन्होंने वो कर दिखाया तो बड़े-बड़ों का सपना होता है। आइए जानते हैं आईपीएस मनोज कुमार शर्मा के स्ट्रगल के दिन और सक्सेस स्टोरी..

12वीं में फेल, ऐसे बने अफसर
आईपीएस मनोज कुमार शर्मा शुरू से ही एवरेज स्टूडेंट हैं। 9वीं-10वीं जैसे-तैसे थर्ड डिवीजन से पास हुए लेकिन 12वीं में हर विषय में फेल हो गए। यहां तक की हिंदी में भी पास नहीं हो सके। तानें और असफलताओं के बीच उन्होंने खुद को आगे बढ़ाने पर ध्यान दिया। मुश्किल भरे दिन देखे लेकिन कभी हार नहीं मानी और आज एक आईपीएस अफसर हैं। 

गर्लफ्रेंड से एक वादा निभाने बन गए IPS
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जब मनोज कुमार 12वीं में पढ़ रहे थे, तब उन्हें एक लड़की से प्यार हो गया। अपने दिल की बता उस लड़की को बताने में वे शर्मा रहे थे। किसी तरह बातें शेयर हुईं और रिश्ता आगे बढ़ा लेकिन तब तक रिजल्ट आ गया और मनोज फेल हो गए। इससे गर्लफ्रेंड नाराज हो गई और साथ छोड़ दिया लेकिन मनोज अपनी गर्लफ्रेंड से मिले और उनके एक मौका देने को कहा। उन्होंने वादा किया कि अगर यह मौका उन्हें मिलता है तो वे दुनिया भी पलट सकते हैं। गर्लफ्रेंड ने उन्हें वह मौका दिया और साथ देने का वादा भी। फिर मनोज ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।

सड़क पर भिखारियों के साथ सोए, टेंपो चलाया
IPS मनोज कुमार शर्मा ने पढ़ाई पूरी करने कभी टेंपो भी चलाया था। रहने के पैसे नहीं थे तो उन्हें कई रात भिखारियों के साथ सड़क पर ही सोकर गुजारनी पड़ी। दिल्ली में लाइब्रेरी में उन्होंने नौकरी की और इसी दौरान गोर्की और अब्राहम लिंकन के अलावा मुक्तबोध जैसी महान हस्तियों को पढ़ा। इन किताबों से उन्हें प्रेरणा मिली और वे और भी ज्यादा मेहनत करने लगे।

तीन प्रयास में फेल, चौथे में मिली सफलता
मनोज कुमार शर्मा जब पहली बार यूपीएससी की परीक्षा में शामिल हुए तो उन्हें असफलता ही मिली। इसके बाद दो और प्रयास में वे एग्जाम पास नहीं कर सके। फिर उन्होंने और भी ज्यादा मेहनत की और आखिरकार चौथे प्रयास में उन्हें ऑल इंडिया 121वीं रैंक मिली और आईपीएस ऑफिसर बन गए। इस वक्त मनोज कुमार शर्मा मुंबई पुलिस में बतौर एडिशनल कमिश्नर कार्यरत हैं। उनकी पत्नी जो गर्लफ्रेंड थीं, श्रद्धा जोशी शर्मा भी एक IRS अधिकारी हैं।

इसे भी पढ़ें
इतनी खूबसूरत है ये IAS, पहले छोड़ी इंजीनियर की नौकरी, 2 बार हुई फेल लेकिन नहीं मानी हार

गजब की स्टाइलिश है ये महिला अफसर, हॉलीवुड एक्ट्रेस से कम नहीं है लुक्स, Photos

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios