Asianet News HindiAsianet News Hindi

विदेश में करनी है पढ़ाई या पाना है जॉब.. IELTS जरूरी, जानें एग्जाम पैटर्न और सेलेक्शन प्रॉसेस

अगर आपका भी सपना विदेश में पढ़ाई करने या जॉब पाने का है तो आपको IELTS एग्जाम पास करना होगा। बिना इसके आपको मौका नहीं मिलेगा। आपको इस एग्जाम के पैटर्न, मार्क्स और प्रॉसेस के बारें में हर जानकारी से अपडेट होना चाहिए।

Study Abroad foreign Career International English Language Testing System IETLTS Exam Pattern stb
Author
First Published Sep 4, 2022, 5:14 PM IST

करियर डेस्क : 12वीं के बाद कई छात्र विदेश में पढ़ाई (Study Abroad) का सपना देखते हैं, कई लोग वहीं जॉब (Job) भी करना चाहते हैं तो कई चाहते हैं कि उनका करियर (Career) ही फॉरेन से शुरू हो। लेकिन उन्हें नहीं पता होता कि इसके लिए क्या-क्या करना होता है और सबसे जरूरी काम क्या होता है?  तो आपको बता दें कि अगर आप विदेश में पढ़ाई करना चाहते हैं या फिर जॉब तो आपको सबसे पहले IELTS (International English Language Testing System) एग्जाम क्वॉलिफाई करना होगा। बिना इसके आपको यह चांस नहीं मिलेगा। आइए जानते हैं क्या होता है IELTS, कैसे होती है एग्जाम और सेलेक्शन प्रॉसेस.. 

IELTS क्या होता है
IELTS यानी इंटरनेशनल इंग्लिश लैंग्वेज टेस्टिंग सिस्टम के जरिए आपकी इंग्लिश का टेस्ट किया जाता है। इस एग्जाम को पास करने के बाद ही आपको ऐसे देश जहां इंग्लिश जरूरी होता है, वहां स्टडी या जॉब का मौका मिलता है। इस साल होने वाली IELTS एग्जाम्स की डेट्स जारी कर दी गई हैं। अलग-अलग स्लॉट में परीक्षाएं आयोजित की जाएंगी। इच्छुक कैंडिडेट्स ऑफिशियल वेबसाइट ielts.org पर विजिट कर अपना स्लॉट बुक कर सकते हैं। 

IETLTS Exam Pattern
IETLTS में कुल चार पेपर होते हैं। इसमें इंग्लिश लिखने के अलावा पढ़ना, बोलना और सुनने का टेस्ट लिया  जाता है। बोलने और सुनने का टेस्ट एक ही तरह से और लिखने-पढ़ने का अलग-अलग होता है। इसके जरिए चेक किया जाता है कि आप इंग्लिश लैंग्वेश में कितने कंफर्ट हैं।

सेक्शन वाइज जानकारी
रीडिंग सेक्शन-
पढ़ने के सेक्शन में भी कुल 40 प्रश्न आते हैं। 60 मिनट में इनके जवाब देने होते हैं।
राइटिंग सेक्शन- लिखने के लिए आपको दो टास्क दिए जाते हैं, जिसे  एक घंटे यानी 60 मिनट में लिखकर पूरा करना होता है।
लिसनिंग सेक्शन- सुनने वाले टेस्ट में कुल 40 सवाल आते हैं। 30 मिनट में आपको सभी के जवाब देने होते हैं। 10 मिनट का एक्स्ट्रा समय भी दिया जाता है।
स्पीकिंग- बोलने की प्रक्रिया का टेस्ट तीन पार्ट में लिया जाता है। इसके लिए 11-14 मिनट का वक्त दिया जाता है।

इसे भी पढ़ें
Study Abroad: विदेश में करना चाहते हैं पढ़ाई तो यहां मिल रही 7 करोड़ की स्कॉलरशिप, जानें हर डिटेल

Study Abroad : विदेश में करना चाहते हैं पढ़ाई तो जानें कौन से देश हैं बेस्ट

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios