नई दिल्ली. कोरोना वायरस महामारी (Corornavirus Pandemic) के बीच तेलंगाना के सीएम के चंद्रशेखर राव (Telangana CM K Chandrashekhar Rao) ने बोर्ड स्टूडेंट्स के लिए साल 2020 को जीरो ईयर घोषित कर दिया है। आदेश जारी किए गए हैं कि 10वीं कक्षा के छात्रों को अगली कक्षा में प्रमोट कर दिया जाए। बता दें कि आज से राज्य में बोर्ड परीक्षाएं होनी थीं, जिसे कोरोना वायरस महामारी के चलते हाईकोर्ट द्वारा रोक लगा दी गई थी। दरअसल, हैदराबाद में काफी मामले सामने आ रहे हैं इसीलिए सरकार ने ऐसा फैसला लिया है।

मद्रास हाईकोर्ट ने भी दिए थे आदेश

इसी तरह से खबरों के मुताबिक तमिलनाडु में 10वीं क्लास के बोर्ड एग्जाम कराने के लिए राज्य सरकार की दलीलों को मद्रास हाईकोर्ट ने नहीं माना है। राज्य सरकार 15 जून से 10वीं के बोर्ड एग्जाम कराना चाह रही थी। इस मामले में मद्रास हाईकोर्ट के न्यायाधीश विनीत कोठारी और आर सुरेश कुमार सरकार की दलीलों को मानने को तैयार नहीं हुए। उनका कहना था कि राज्य सरकार आखिर कैसे 9 लाख छात्रों और 2 लाख टीचर्स की जिंदगी को दांव पर लगा सकती है।

राज्य बोर्ड कर रहे सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम

बता दें कि कोरोना महामारी के बीच तमाम राज्य बोर्ड परीक्षा करवाने का इंतजाम कर रहे हैं। ऐसे में वे छात्रों की सुरक्षा को लेकर काफी ऐहतियात भी बरत रहे हैं। हाल ही में मध्य प्रदेश बोर्ड ने छात्रों की बोर्ड परीक्षा शुरू करने से पहले काफी लंबी एडवाइजरी जारी की। जिसमें सैनिटाइजर और फेस मास्क यूज करने से लेकर सोशल डिस्टेंसिंग मेनटेन किए जाने संबंधी भी सारे निर्देश मौजूद हैं। मध्य प्रदेश बोर्ड की परीक्षा 9 जून से 16 जून के बीच होनी है।

इसी तरह से सीबीएसई ने भी छात्रों के सुरक्षा के लिए तमाम कदम उठाए हैं, ताकि 1 जुलाई से 15 जुलाई के बीच होने वाली परीक्षा में छात्रों की सुरक्षा को सुनिश्चित किया जा सके।