Asianet News HindiAsianet News Hindi

UPSC सिविल सेवा के परीक्षा के लिए जल्दी ही भरे जाएंगे फॉर्म, जानें कैसे आते हैं सवाल

UPSC सिविल सेवा परीक्षा के लिए जल्दी ही फॉर्म भरे जाएंगे। यहां प्रारंभिक परीक्षा में पूछे जाने वाले सवालों के पैटर्न के बारे में भी जानकारी दी जा रही है।
 

UPSC Civil Services Exam Form to be filled soon, know the pattern of question papers MJA
Author
New Delhi, First Published Feb 8, 2020, 12:36 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

करियर डेस्क। UPSC सिविल सेवा परीक्षा के लिए फॉर्म भरने की प्रक्रिया जल्द ही शुरू होने वाली है। जैसी जानकारी मिली है, उसके अनुसार संघ लोक सेवा आयोग की ऑफिशियल वेबसाइट पर फॉर्म जारी किया जाएगा। इसके लिए रजिस्ट्रेशन और ऑनलाइन एप्लिकेशन देने की प्रक्रिया 12 फरवरी, 2020 से शुरू होने जा रही है। बता दें कि यूपीएससी सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा और इंडियन फॉरेस्ट सर्विस प्रारंभिक परीक्षा के लिए एक ही साथ एप्लिकेशन फॉर्म भरे जाएंगे।

महत्वपूर्ण तारीखें
यूपीएससी प्रारंभिक परीक्षा 2020 के लिए आवेदन प्रक्रिया 12 फरवरी से शुरू होगी। एप्लिकेशन देने की अंतिम तिथि 3 मार्च है। प्रारंभिक परीक्षा 31 मई को होगी। सिविल सेवा मुख्य परीक्षा 18 सितंबर को होगी। 

कौन कर सकते हैं आवेदन
जिन उम्मीदवारों ने ग्रैजुएशन पूरा कर लिया है या ग्रैजुएशन के फाइनल ईयर में हैं, वे सिविल सेवा परीक्षा में भाग लेने के लिए आवेदन कर सकते हैं। जो उम्मीदवार प्रारंभिक परीक्षा में सफल होंगे, उन्हें मुख्य परीक्षा में भाग लेने का मौका मिलेगा। 

जानें परीक्षा में आने वाले सवालों का पैटर्न
प्रारंभिक परीक्षा में दो पेपर होते हैं। दोनों पेपर 200 अंकों के होते हैं। पहला पेपर जनरल अवेयरनेस के सवालों पर आधारित होता है, वहीं दूसरे पेपर में एप्टिट्यूड की जानकारी से जुड़े सवाल होते हैं। 
पहले पेपर में भारत और विदेश की हाल-फिलहाल की घटनाओं से संबंधित सवाल, भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन के इतिहास से जुड़े सवाल, भारतीय और अंतरराष्ट्रीय भूगोल, भारतीय राजनीति, शासन, संविधान, पंचायती राज, लोक नीति, नागरिक अधिकार से जुड़े सवाल, आर्थिक-सामाजिक विकास और पर्यावरण से जुड़े मुद्दों के साथ सामाान्य विज्ञान से संबंधित सवाल भी पूछे जा सकते हैं। 
दूसरे पेपर में एप्टिट्यूड से संबंधित सवाल होते हैं। इसमें कॉम्प्रिहेन्शन, लॉजिकल रीजनिंग, एनालिटिकल एबिलिटी, निर्णय लेने, समस्या सुलझाने, जनरल मेंटल एबिलिटी, डाटा इंटरप्रेटेशन आदि से जुड़े सवाल होंगे। यह पेपर मल्टिपल च्वाइस वाले सवालों का होता है। इसकी कट ऑफ मार्क्स 33 प्रतिशत है।    

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios