Asianet News Hindi

नये कुएं के प्लास्टर को बारिश से बचाने मालिक ने पॉलिथीन से ढंक दिया, सुबह कुआं 4 लोगों को लील गया

छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा में नये कुएं में रिसी जहरीली गैस ने 4 लोगों की जान ले ली। खेत का मालिक सबसे पहले कुएं में उतरा था। वो देखना गया था कि कुआं कैसा खुदा है। जब वो ऊपर नहीं आया, तो एक-एक करके तीन अन्य लोग भी नीचे उतरे। लेकिन उनमें से जब कोई ऊपर नहीं आया, तो हड़कंप मच गया। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर चारों को ऊपर निकाला। उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती कराया, लेकिन किसी को बचाया नहीं जा सका। बताया जाता है कि कुएं के प्लास्टर को बारिश से बचाने मालिक ने उसे पॉलिथीन से ढंक दिया था। इससे कुएं में बनी मीथेन गैस बाहर नहीं निकल सकी।

Janjgir poisonous well, 4 people died in new well in Chhattisgarh kpa
Author
Janjgir, First Published Jun 10, 2020, 2:57 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

 

जांजगीर-चांपा, छत्तीसगढ़. बड़ी मेहनत से खोदा गया कुआं 4 लोगों की बलि ले गया। कुएं के अंदर बनी मीथेन गैस इनकी मौत का कारण बन गई। खेत के मालिक ने कुएं के प्लास्टर को बारिश से बचाने उसे पॉलिथीन से ढंक दिया था। आशंका है कि कुएं में रिसी मीथेन गैस को बाहर निकले का रास्ता नहीं मिला और उसमें उतरे 4 लोगों की मौत हो गई। हादसा बुधवार को हुआ। खेत का मालिक सबसे पहले कुएं में उतरा था। वो देखने गया था कि कुआं कैसा बना है। जब वो ऊपर नहीं आया, तो एक-एक करके तीन अन्य लोग भी नीचे उतरे। लेकिन उनमें से जब कोई ऊपर नहीं आया, तो हड़कंप मच गया। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर चारों को ऊपर निकाला। उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती कराया, लेकिन किसी को बचाया नहीं जा सका। घटना हसौद थाना क्षेत्र के धमनी गांव की है। 

नया कुआं देखकर खुश था मालिक...
पुलिस के मुताबिक, 37 वर्षीय हेमंत रात्रे ने नरियर खार स्थित अपने खेत में नया कुआं खुदवाया था। मंगलवार को कुएं में प्लास्टर कराया गया था। बारिश से प्लास्टर को बचाने हेमंत ने कुएं को पॉलिथीन से ढंक दिया। बुधवार सुबह करीब 9.30 बजे हेमंत कुएं को अंदर से देखने सीढ़ी लगाकर नीचे उतरा था। जब वो ऊपर नहीं आया, तो उसकी पत्नी मोबरा चिल्लाने लगी। उसकी चीख-पुकार सुनकर गांव का 34 वर्षीय नागेंद्र मधुकर कुएं में उतरा। जब वो ऊपर नहीं आया, तो नागेंद्र का छोटा भाई भी कुएं में उतरा। इसके बाद 45 वर्षीय चिंतामणि बंजारे कुएं में गया। लेकिन चारों नीचे बेहोश हो गए।

पुलिस ने चारों को निकलवाया..
जब चारों ऊपर नहीं आए, तब गांववालों ने पुलिस को सूचित किया। इसके बाद चारों को बाहर निकलवाया गया। उन्हें अस्पताल भेज गया, लेकिन किसी को बचाया नहीं जा सका। आशंका है कि मीथेन गैस के प्रभाव से चारों बेहोश हो गए। उस वक्त कुएं में हल्का पानी भी भर गया था, इससे वे उसमें डूब गए।

यह भी पढ़ें

शॉकिंग सुसाइड: मंगेतर के संग मूवी देखी, लेकिन तब आभास हो गया था कि दाल में कुछ काला है 

आधी रात को पति ने पत्नी और 3 साल की बेटी को दी ऐसी दर्दनाक मौत, जिसे सुनकर कांप जाएगी आपकी रूह

सगाई के एक दिन बाद HR हेड लड़की ने चुनी दर्दनाक मौत,अंतिम शब्द-लाइफ बहुत गंदी है..डोंट ट्रस्ट ऐनी वन

कभी मिड डे मील खाकर मिटाते थे भूख, होटल में पोछे मारे, पढ़िए 21 साल में IAS बने ऑटो ड्राइवर के बेटे की कहानी

सेल्फी क्रेज: अगर जीने का जज्बा है, तो कोरोना क्या बिगाड़ लेगा, ढूंढ़िये इन 19 तस्वीरों में अपनी खुश

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios