Asianet News HindiAsianet News Hindi

IND vs NZ: क्रिकेट का यह हिस्सा मुझे कई बार इस खेल से नफरत करने पर मजबूर करता है...

भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) ने सोमवार को न्यूजीलैंड (New Zealand) को मुंबई टेस्ट मैच में 372 रनों से हरा दिया। इस जीत के साथ ही भारत ने दो टेस्ट मैचों की सीरीज को 1-0 से अपने नाम कर लिया। 

IND vs NZ: people are asking why Mayank Agarwal was chosen as Player of the Match instead of Ajaz Patel?-mjs
Author
Mumbai, First Published Dec 6, 2021, 4:33 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

स्पोर्ट्स डेस्क: न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज जीत के बाद भी टीम इंडिया सोशल मीडिया के निशाने पर है। वजह भी बड़ी रोचक है लोग इस बात से नाराज हैं कि एजाज पटेल की जगह मयंक अग्रवाल को प्लेयर ऑफ दे मैच क्यों चुना गया? भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) ने सोमवार को न्यूजीलैंड (New Zealand) को मुंबई टेस्ट मैच में 372 रनों से हरा दिया। इस जीत के साथ ही भारत ने दो टेस्ट मैचों की सीरीज को 1-0 से अपने नाम कर लिया। 

 

 

एक यूजर ने सोशल मीडिया पर लिखा, "एक दुर्लभ ऐतिहासिक उपलब्धि और कुल 14 विकेट। एजाज पटेल के लिए मैच में, लेकिन, उन्हें 'प्लेयर ऑफ द मैच' नहीं मिला, सिर्फ इसलिए कि उनकी टीम ने मैच नहीं जीता! क्रिकेट का यह हिस्सा मुझे कई बार खेल से नफरत करने पर मजबूर करता है। पूरी तरह से अनुचित!" एक अन्य यूजर ने लिखा, "क्या एक पारी में 10 विकेट लेने का कारनाम हर रोज होता है। एक खिलाड़ी के साथ इतनी बड़ी उपलब्धि के बाद ऐसी नाइंसाफी क्यों।" 

एजाज ने मुंबई टेस्ट की पहली पारी में हासिल किया परफेक्ट 10: 

मुंबई में खेला गया टेस्ट मैच स्पिनर एजाज पटेल के लिए जीवनभर की खास याद बन गया। मुंबई टेस्ट की पहली पारी में सभी 10 भारतीय बल्लेबाजों को आउट कर उन्होंने इतिहास रच दिया। वे टेस्ट क्रिकेट में किसी एक पारी के दौरान सभी 10 विकेट लेने वाले वर्ल्ड क्रिकेट के तीसरे गेंदबाज बने। इस मैच में एजाज ने 119 रन देकर पूरी भारतीय क्रिकेट टीम को अकेले ही आउट कर दिया। एजाज ने मैच के कुल 14 विकेट लिए। 

IND vs NZ: people are asking why Mayank Agarwal was chosen as Player of the Match instead of Ajaz Patel?-mjs

टेस्ट क्रिकेट इतिहास में एजाज से पहले इन्होंने किया ये कारनामा: 

इंग्लैंड के पूर्व ऑफ स्पिनर जिम लेकर क्रिकेट इतिहास के पहले खिलाड़ी थे, जिन्होंने यह उपलब्धि हासिल की थी। 1956 में मैनचेस्टर में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उन्होंने एक पारी में 10 विकेट चटकाए थे। इसके बाद भारत के पूर्व क्रिकेट कप्तान अनिल कुंबले ने 1999 में पाकिस्तान के खिलाफ दिल्ली टेस्ट मैच 74 रन देकर पूरी टीम को आउट किया था। खास बात ये है कि टेस्ट क्रिकेट की एक पारी में सभी दस विकेट लेने वाले तीनों गेंदबाज स्पिनर ही रहे। 

ये कारनामा करने वाले 14वें भारतीय बने मयंक अग्रवाल:   

भारतीय क्रिकेटर मयंक अग्रवाल के लिए न्यूजीलैंड के खिलाफ यह सीरीज यादगार रही। मुंबई टेस्ट की पहली पारी में मयंक ने 150 रनों की पारी खेली थी। वहीं दूसरी पारी में उन्होंने 62 रन बनाए। वे पहली पारी में 150 से ऊपर का स्कोर और दूसरी पारी में अर्धशतक जमाने वाले 14वें भारतीय खिलाड़ी बनें। कानपुर में खेले गए पहले टेस्ट में मयंक का प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा था। उस मैच की पहली पारी में उन्होंने 13 रन और दूसरी पारी में 17 रन बनाए थे। 

भारतीय टेस्ट क्रिकेट इतिहास की सबसे बड़ी जीत: 

टीम इंडिया ने न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम को मुंबई में खेले गए टेस्ट सीरीज के दूसरे और अंतिम मैच में 372 रनों के विशाल अंतर से हराकर इतिहास रचा। ये भारतीय टेस्ट क्रिकेट इतिहास की रनों के लिहाज से सबसे बड़ी जीत रही। इससे पहले भारत की टेस्ट मैचों में रनों के लिहाज से सबसे बड़ी जीत 337 रनों की थी जो उसने 3 दिसंबर, 2015 को साउथ अफ्रीका के खिलाफ दिल्ली में दर्ज की थी। भारत में न्यूजीलैंड के खिलाफ भारतीय टीम की पिछले आठ मैचों में ये 7वीं जीत रही। बतौर टेस्ट कप्तान कोहली की ये 39वीं जीत रही। इसके अलावा न्यूजीलैंड के खिलाफ भारत में बतौर कप्तान कोहली की ये लगातार चौथी जीत रही। 

यह भी पढ़ें: 

 

 

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios