Asianet News HindiAsianet News Hindi

भारत की महिला खिलाड़ी के रन आउट से क्रिकेट जगत में दो फाड़, जानें क्यों सुर्खियों में आया 'मांकड़ कंट्रोवर्सी'

कुछ दिन पहले ही भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने इंग्लैंड को अंतिम वनडे मैच में हराकर सीरीज पर 3-0 से कब्जा जमा लिया। लेकिन इस मैच में हुआ एक विवाद अभी भी थमने का नाम नहीं ले रहा है। कई क्रिकेटर भी इस विवाद में कूद पड़े हैं। 
 

india and england cricketers ove mankad controversy deepti sharma charlie dean mda
Author
First Published Sep 28, 2022, 9:50 AM IST

India-England Run Out Controversy. भारतीय महिला क्रिकेट ने भले ही इंग्लैंड की महिला क्रिकेट टीम धोबी पछाड़ देते हुए सीरीज 3-0 से जीत ली है। लेकिन एक विवाद की वजह से यह सीरीज सुर्खियों में है। इंग्लैंड टीम की कैप्टन के बाद अब पुरूष टीम के पूर्व खिलाड़ी बेन स्टोक्स भी इस विवाद में कूद पड़े हैं। श्रीलंकाई स्पिनर मुथैया मुरलीधरन ने भारतीय खिलाड़ी का समर्थन दिया है लेकिन कुछ एथिक्स की भी बात की है। दोनों टीमों के बीच इस विवाद ने दशकों पुराने 'मांकड़ कंट्रोवर्सी' की याद दिला दी है। आप भी जानें क्या है यह ताजा विवाद और क्यों याद आर रहा 'मांकड़ कंट्रोवर्सी'...

क्या है यह ताजा विवाद
भारत बनाम इंग्लैंड महिला क्रिकेट टीम के बीच लास्ट वनडे मैच में यह विवाद सामने आया। भारतीय टीम गेंदबाजी कर रही थी और बॉलर्स ने मैच पर पकड़ भी बनाई हुई थी। तभी दीप्ति शर्मा टीम की तरफ से 44वां ओवर लेकर आईं। उन्होंने बॉलिंग के रनअप लिया लेकिन गेंद फेंकने की बजाय नॉन स्ट्राइकर एंड के विकेट की गिल्लियां उड़ा दीं। तब तक नॉन स्ट्राइकर एंड पर खड़ी इंग्लैंड की प्लेयर चार्ली डीन क्रीज से काफी बाहर निकल चुकी थीं। भारतीय टीम ने रनआउट की अपील की और अंपायर ने भी अंगुली उठा दी। इसके अंग्रजी मीडिया ही नहीं बल्कि वर्ल्ड क्रिकेट भी दो हिस्सों में बंटता नजर आ रहा है। 

india and england cricketers ove mankad controversy deepti sharma charlie dean mda

क्या है मांकड़ कंट्रोवर्सी
दरअसल यह घटना कई दशक पुरानी है। 1947-48 के दौरान भारत के बाएं हाथ के तेज गेंदबाज वीनू मांकड़ गेंदबाजी कर रहे थे। उस समय भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर थी। तब ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में वे गेंदबाजी कर रहे थे। वीनू मांकड़ गेंद डालने के लिए रनअप पूरा कर चुके थे लेकिन वे अचानक रूक गए। फिर उन्होंने नॉन स्ट्राइकर एंड के स्टंप्स की गिल्लियां बिखेर दीं। उस वक्त बैटिंग के लिए दूसरे छोर पर खड़े बिल ब्राउन क्रीज से काफी आगे निकल गए थे। यह पहला मौका था जब इस तरह से कोई बल्लेबाज आउट हुआ लेकिन इस घटना में क्रिकेट के खेल में बड़ा विवाद खड़ा कर दिया। तब इसे रेयर क्रिकेट डिसमिसल का नाम दिया गया था। 

आरोप-प्रत्यारोप का दौर
इंग्लैंड के खिलाफ चार्ली डीन को इस तरह से रनआउट करने वाली गेंदबाज दीप्ति शर्मा ने भारत लौटने पर कहा कि हमने कई बार चार्ली को चेतावनी दी थी क्योंकि वे गेंद फेंकने से पहले ही क्रीज से बाहर निकल रहीं थी। हमने अंपायर को भी यह बताया। इसके बाद नियमों और दिशा-निर्देशों के अनुसार आउट किया। यही बात भारतीय टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर ने भी कही। हालांकि ब्रिटिश मीडिया का एक खेमा इस क्रिकेट की खेल भावना के खिलाफ बता रहा है। इंग्लिश कप्तान ने भी कहा कि दीप्ति का दावा बेबुनियाद है। एक और खिलाड़ी ने कहा कि आईसीसी को यह नियम स्पष्ट करना चाहिए।

यह भी पढ़ें

Women's Asia Cup Cricket: दिल थामकर बैठिए 1 अक्टूबर से दिखेगा इन खिलाड़ियों का जलवा, जानें सभी टीमों की प्लेयर
 

 


 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios