Asianet News Hindi

21 साल की ये महिला एथलीट बनीं असम की DSP, ढिंग एक्सप्रेस के नाम से मशहूर है ये खिलाड़ी

भारतीय एथलीट हिमा दास को असम का DSP नियुक्त किया जाएगा। असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने कैबिनेट बैठक में 21 साल की हिमा दास को डीएसपी बनाने का फैसला किया है। 21 साल की उम्र में ही हिमा 5 गोल्ड मेडल अपने नाम कर चुकी हैं। असम की इस धावक को ढिंग एक्सप्रेस के नाम से भी जाना जाता है।

Indian athlete Hima Das Will Appoints As DSP of Assam dva
Author
Assam, First Published Feb 11, 2021, 3:58 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

स्पोर्ट्स डेस्क : महिला भारतीय एथलीट (Indian athlete) के रूप में पहचान बनाने वाली हिमा दास (Hima Das) को असम का पुलिस अधीक्षक (DSP) नियुक्त किया जाएगा। असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने कैबिनेट बैठक में 21 साल की हिमा दास को डीएसपी बनाने का फैसला किया है। इसके साथ ही कैबिनेट ने राज्य सरकार के कई विभागों में क्लास-1 और क्लास-2 में खिलाड़ियों की नियुक्ति के लिए खेल नीति में संशोधन किया है। इसमें ओलंपिक, एशियाई गेम्स और राष्ट्रमंडल खेलों के पदक विजेताओं को क्लास-I अधिकारी बनाया जाएगा। 

केंद्रीय खेल मंत्री ने की फैसले की सरहाना
असम सरकार के इस फैसले पर केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू (Kiren Rijiju) ने भी खुशी व्यक्त की ट्वीट कर उन्होंने लिखा कि  "अच्छा हुआ! सीएम सर्बानंद सोनोवाल की अध्यक्षता में असम मंत्रिमंडल ने असम पुलिस में DSP के पद हिमा दास को सौंपने का फैसला किया है।" रिजिजू ने गुरुवार को कहा कि 'असम सरकार के इस निर्णय लेने के बाद भी, हिमा दास देश के लिए खेलना जारी रखेंगी। वह नेताजी सुभाष नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ स्पोर्ट्स, पटियाला में आगामी टोक्यो ओलंपिक चैंपियनशिप के लिए तैयारी कर रही है। रिजिजू ने आगे कहा कि खिलाड़ी विभिन्न क्षेत्रों में कार्यरत हैं और फिर भी वे खेलना जारी रखते हैं।' 

कई रिकॉर्ड बना चुकी हैं हिमा दास
9 जनवरी 2000 में असम के ढिंग गांव में जन्मीं हिमा रणजीत दास एक इंडियन एथलीट हैं। वो  IAAF वर्ल्ड अंडर-20 एथलेटिक्स चैम्पियनशिप की 400 मीटर दौड़ में गोल्ड मैडल जीतने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी हैं। बता दें कि उन्होंने ये महज 51.46 सेकेंड में पूरी की थी। इसके साथ ही उन्होंने जुलाई 2019 में नोव मेस्टो एथलेटिक्स मीट में 5वां स्थान हासिल किया था। हिमा ने टाबर एथलेटिक मीट में भी 200 मीटर में स्वर्ण पदक जीता था। असम की इस धावक को ढिंग एक्सप्रेस के नाम से भी जाना जाता है। 21 साल की उम्र में ही हिमा 5 गोल्ड मेडल अपने नाम कर चुकी हैं। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios