Asianet News HindiAsianet News Hindi

T20 World Cup: विराट कोहली पर फेक फील्डिंग के आरोप, हर्षा भोगले ने बंद कर दी बांग्लादेश की बोलती

टी20 विश्वकप 2022 में भारत बनाम बांग्लादेश के मैच में विराट कोहली पर फेक फील्डिंग का आरोप लगा है। बांग्लादेश के विकेटकीपर-बल्लेबाज नुरूल हसन ने विराट पर यह आरोप लगाया है। वहीं टीवी कमेंटेटर हर्षो भोगले ने इसका जवाब दिया है।
 

t20 world cup 2022 harsha bhogle on virat kohli fake fielding nurul hasan mda
Author
First Published Nov 3, 2022, 3:41 PM IST

India vs Bangladesh. टी20 विश्वककप में भारत बनाम बांग्लादेश के मैच में बांग्लादेश को 5 रनों से हार मिली है। इसके बाद बांग्लादेशी विकेटकीपर और बल्लेबाज नुरूल हसन ने विराट कोहली पर फेक फील्डिंग के आरोप लगाए हैं। मैच के बाद नुरूल हसन ने टीम की हार के लिए गीले ऑउटफील्ड को दोषी ठहराया। साथ ही यह भी कहा कि विराट कोहली की फेक फील्डिंग पर हमें 5 रन मिल सकते थे लेकिन अंपायर्स ने ऐसा नहीं किया। हालांकि अब टीवी कमेंटेटर हर्षा भोगले ने बांग्लादेश को अपने ही अंदाज में जवाब दिया है।

पहले यह जानें कि हुआ क्या था
बांग्लादेश के विकेटकीपर बल्लेबाज नुरूल हसन ने मैच के बाद अंपायर और विराट कोहली पर आरोप लगाते हुए कहा कि निश्चित रूप से गीले ऑउटफील्ड का प्रभाव तब पड़ा जब हमने खेल को दोबारा शुरू किया। लेकिन मैच के दौरान एक फेक थ्रो भी था जिससे हमें पांच रन मिलते लेकिन दुर्भाग्य से वह रन हमें नहीं मिल सके। नुरूल हसन ने मैच ऑफिशियल्स पर यह आरोप मढ़ा। दरअसल, भारतीय गेंदबाजी के 7वें ओवर में अक्षर पटेल बॉलिंग कर रहे थे, तब बांग्लादेश के बल्लेबाज लिटन दास ने गेंद खेली और गेंद अर्शदीप सिंह के पास पहुंची। अर्शदीप ने थ्रो किया तो उसी वक्त विराट ने ऐसे रिएक्ट किया मानों वे गेंद को पकड़कर स्टंप की तरह थ्रो कर रहे हैं। 

आईसीसी का नियम क्या है
इस तरह की घटना को लेकर आईसीसी का नियम 41.5 कहता है कि फील्डिंग कर रही टीम यदि जानबूझकर ध्यान भटकाने या फिर बल्लेबाज को बाधा पहुंचाती है तो वह नियमों के अनुसार गलत प्रैक्टिस है। यदि मैदानी अंपायर को ऐसा लगता है कि यह नियमों की अनदेखी है तो वे उस बॉल को डेड बॉल करार दे सकते हैं और फील्डिंग टीम पर 5 रनों की पेनाल्टी भी लगाई जा सकती है।

हर्षा भोगले ने दिया जवाब
नुरूल हसन के आरोपों को लेकर टीवी कमेंटेटर हर्षा भोगले ने ट्विट किया है। भोगले ने लिखा कि फेक फील्डिंग को लेकर सच्चाई यह है कि इस घटना को किसी ने भी नहीं देखा। अंपायर ने भी इसे नहीं देखा और हमने भी नहीं देखा। हर्षा भोगले ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि किसी भी व्यक्ति को गीली ऑउटफील्ड को लेकर शिकायत करने का अधिकार है। शाकिब ने सही कहा कि बल्लेबाजी टीम को बारिश का फायदा उठाना चाहिए था। हर्षा ने यह भी कहा कि बांग्लादेश के मेरे दोस्तों से मेरा अनुरोध है कि कृपया फेक फील्डिंग और गीली ऑउटफील्ड की शिकायत न करें।

यह भी पढ़ें

T20 World Cup: क्या सूर्या की चाल में फंसा बांग्लादेश? 12वें ओवर में फैंस से की खास अपील फिर पलट गया गेम
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios