Asianet News Hindi

क्यों पाकिस्तान नहीं जाना चाहते थे इरफान पठान? 17 साल बाद किया खुलासा

इरफान ने इस दौरे पर अंडर-19 मुकाबले में बांग्लादेश के खिलाफ लाहौर में एक ही मैच में नौ विकेट हासिल किए थे। उस मैच में इरफान ने दो बार हैट्रिक ली थी। 

Why did Irfan Pathan not want to go to Pakistan? Revealed after 17 years KPU
Author
New Delhi, First Published May 16, 2020, 4:50 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

स्पोर्ट्स डेस्क. देश में लगभग दो महीने से लॉकडाउन है। ऐसे में खेल जगत के धुरंधर मैदान छोड़ इन दिनों सोशल मीडिया पर खूब एक्टिव हैं। इसी कड़ी में भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व ऑलराउंडर इरफान पठान ने हाल ही में सुरेश रैना से इंस्टाग्राम पर लाइव चैट किया। इस लाइव वीडियो में इरफान ने एक खुलासा करते हुए बताया कि 'मैं साल 2003 में पाकिस्तान दौरे पर नहीं जाना चाहता था लेकिन मुझे मजबूरन वहां जाना पड़ा'। हालांकि उनके लिए ये दौरा काफी सफल रहा था और उन्होंने इसी दौरे पर हैट्रिक लिया था।

रणजी खेलना चाह रहे थे इरफान
बतादें कि 2003 में 14 सालों में पहली बार भारतीय अंडर-19 टीम पाकिस्तान का दौरा कर रही थी। जब इरफान को इस दौरे के लिए चुना गया तब वे मात्र 19 साल के थे लेकिन वे पाकिस्तान नहीं जाना चाहते थे। इरफान ने बताया, ' मैं अंडर19 टीम के साथ पाकिस्तान के दौरे पर जाना ही नहीं चाहता था। दरअसल, उस वक्त रणजी ट्रॉफी चल रही थी और हमारी टीम का मुकाबला मुंबई के खिलाफ था। मैंने शेट्टी सर से कहा था कि मुंबई के खिलाफ हमारा मुकाबला है और मैं अच्छी फॉर्म में हूं। मैंने अगर मुंबई के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन किया तो मुझे इसका फायदा होगा।'

शुरुआती तीन गेंदों पर हैट्रिक लेकर रचा था इतिहास
हालांकि इरफान ने इस दौरे पर अंडर-19 मुकाबले में बांग्लादेश के खिलाफ लाहौर में एक ही मैच में नौ विकेट हासिल किए थे। उस मैच में इरफान ने दो बार हैट्रिक ली थी। बतादें कि जब इरफान जाने के लिए तैयार नहीं हो रहे थे तो उनके कोच ने उनसे कहा कि देखो टीम 14 सालों में पहली बार पाकिस्तान जा रही है। और तुम पहले भी अंडर-19 खेले हुए हो। ऐसे में इमरान करते हैं कि 'मैं जाने के लिए तो तैयार हो गया लेकिन ईमानदारी से कहूं तो मैं वहां काफी निराशा के साथ वहां गए था। लेकिन किसको पता था मेरे लिए वहां क्या होने वाला था।' इरफान पठान ने इस दौरे पर कराची टेस्ट में पारी की शुरुआती तीन गेंदों पर हैट्रिक लेकर इतिहास रच दिया था। वह ऐसा करने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी थे।

इरफान पठान का करिअर
इरफान को इसी पारी की बदौलत अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू करने का मौका मिला था। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ डेब्यू और इस दौरे पर भी शानदार कामयाबी हासिल की थी। उन्होंने इस दौरे पर दिग्गज बल्लेबाज मैथ्यू हेडन और एडम गिलक्रिस्ट का विकेट हासिल किया था।

इसी साल जनवरी में क्रिकेट को अलविदा कहने वाले इरफान ने 29 टेस्ट मैचों में 1,105 रन और 100 विकेट अपने नाम किए हैं120 वनडे मैचों में इरफान ने 1,544 रन और 173 विकेट अपने नाम किए हैं। वहीं  24 टी-20 इंटरनेशनल मैचों में इरफान ने 172 रन और 28 विकेट लिए हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios