Asianet News Hindi

नई दिल्ली सीटः केजरीवाल के आगे धाराशायी हुए बीजेपी के सुनील, 21 हजार वोटों से AAP की जीत

नई दिल्ली विधानसभा सीट पर एक बार फिर केजरीवाल ने अपना कब्जा जमा लिया है। इस सीट पर केजरीवाल की यह तीसरी जीत है। इससे पहले उन्होंने दिल्ली की तीन बार सीएम रहीं स्व. शीला दीक्षित को हराया था। वहीं, इस बार बीजेपी के सुनील यादव को पटखनी दी है। 

New Delhi Assembly constituency history news updates and results kps
Author
New Delhi, First Published Jan 27, 2020, 6:47 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. नई दिल्ली विधानसभा सीट पर आम आदमी पार्टी की ओर से सीएम केजरीवाल ने तीसरी बार जीत हासिल की है। वहीं, बीजेपी के उम्मीदवार सुनील यादव को 21 हजार वोटों से हार का सामना करना पड़ा। जबकि इस सीट पर कांग्रेस पार्टी तीसरे नंबर पर पहुंच गई है। नई दिल्ली विधानसभा सीट गठन के बाद से ही कांग्रेस का गढ़ हुआ करती थी। लेकिन पिछले दो चुनाव से यहां आम आदमी पार्टी का कब्जा है और तीसरी बार भी आप ने अपने जीत का परचम लहराया है। 

नई दिल्ली विधानसभा सामान्य सीट है और यहां 2008 में कांग्रेस पार्टी की दिग्गज नेता रही स्व. शीला दीक्षित का कब्जा रहा है। लेकिन 2013 के विधानसभा चुनाव में केजरीवाल ने शीला दीक्षित को पटखनी दी थी। वहीं, 2015 में हुए विधानसभा चुनाव में भी केजरीवाल ने रिकॉर्ड मतों से जीत हासिल की थी। 

पूर्व सीएम रह चुकी हैं विधायक

नई दिल्ली सीट से कांग्रेस पार्टी की पूर्व सीएम स्व. शीला दीक्षित यहां से विधायक रह चुकी हैं। शीला दीक्षित ने यहां बीजेपी के विजय जॉली को 13782 वोटों से हराकर जीत हासिल की थी। लेकिन 2013 के विधानसभा चुनाव में स्व. दीक्षित को केजरीवाल के सामने हार का सामना करना पड़ा। 2013 में केजरीवाल को 44, 269 मत मिले, जबकि कांग्रेस की उम्मीदवार और तत्कालीन सीएम रही स्व. दीक्षित को महज 18,405 मत मिले। वहीं, बीजेपी तीसरे नंबर की पार्टी बनकर रह गई। 

अभी तक बीजेपी को नहीं मिली जीत 

बताते चलें कि 2008 में नई दिल्ली विधानसभा सीट बनाया गया। जिसमें पहली बार कांग्रेस को जीत मिली। जिसके बाद से हुए दो चुनावों में नई नवेली पार्टी आप ने जीत का स्वाद चखा। 2015 में हुए विधानसभा चुनाव में सीएम केजरीवाल को 57,213 मत मिले तो, बीजेपी की उम्मीदवार नुपूर शर्मा को 25,630 वोट मिले। वहीं, इस चुनाव में कांग्रेस पार्टी तीसरे नंबर की पार्टी बन गई। नई दिल्ली सीट पर बीजेपी पिछले तीन चुनावों से जीत की तलाश में जुटी हुई है।

नई दिल्ली विधानसभा क्षेत्र में ही हौज खास का किला है। यह स्थापत्य कला का बेहतरीन नमूना है। यह किला अलाउद्दीन खिलजी ने 13वीं सदी में बनवाया था। यह मशहूर पर्यटन स्थल है। इसे ऐतिहासिक धरोहरों में स्थान दिया गया है, जिसकी देख-रेख की जिम्मेदारी दिल्ली विकास प्राधिकरण की है। यहां एक हिरण पार्क भी है। पर्यटकों के लिए यहां लाइट एंड साउंड शो का आयोजन भी किया जाता है। इसे हौज खास इसलिए कहा जाता है, क्योंकि इसका निर्माण रॉयल टैंक (हौज) के साथ किया गया था। पहले इसे हौज-ए-अलाई के नाम से जाना जाता था। यहां बॉलीवुड फिल्मों की शूटिंग भी होती है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios