गुजरात चुनाव में केजरीवाल को लगा बड़ा झटका, AAP प्रत्याशी ने भाजपा कैंडीडेट को समर्थन देने का किया ऐलान

| Nov 28 2022, 01:31 PM IST

गुजरात चुनाव में केजरीवाल को लगा बड़ा झटका, AAP प्रत्याशी ने भाजपा कैंडीडेट को समर्थन देने का किया ऐलान

सार

कच्छ जिले की अबडासा विधानसभा सीट से AAP के उम्मीदवार ने भाजपा प्रत्याशी को समर्थन देने का ऐलान कर दिया है।

अहमदाबाद( Gujrat).  गुजरात विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को फिर से बड़ा झटका लगा है। कच्छ जिले की अबडासा विधानसभा सीट से AAP के उम्मीदवार ने भाजपा प्रत्याशी को समर्थन देने का ऐलान कर दिया है। इस सीट से आम आदमी पार्टी ने वसंत वलजीभाई खेतानी को अपना उम्मीदवार बनाया था। उन्होंने रविवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया और जनता से बीजेपी उम्मीदवार प्रद्युमन सिंह जडेजा को जीताने की अपील की।

जानकारी के मुताबिक शुरू से ही ऐसी खबरें आ रही थी कि आप द्वारा सीएम कैंडिडेट की घोषणा के बाद से लगातार कई नेता नाराज चल रहे थे। इसी बीच अब कच्छ जिले की अबडासा विधानसभा सीट से AAP के उम्मीदवार वसंत खेतानी पार्टी से इस्तीफा देकर अरविंद केजरीवाल को बड़ा झटका दिया है। गुजरात मे सरकार बनाने का सपना देख रही AAP के लिए ये बड़ी मुसीबत का सबब बन सकती है।रविवार को अपना इस्तीफा देने के बाद वसंत खेतानी ने कहा कि वह गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा को अपना समर्थन देते हैं।

Subscribe to get breaking news alerts

इसके पहले भी इस AAP प्रत्याशी ने वापस ले लिया था नामांकन

बता दें कि इससे पहले भी सूरत ईस्ट विधानसभा सीट से आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी कंचन जरीवाला ने अपना नामांकन वापस ले लिया था। AAP  ने भाजपा पर अपने प्रत्याशी कंचन जरीवाला के अपहरण का आरोप लगाया था। हालांकि, AAP प्रत्याशी ने इस दावे को गलत बताया और अंतिम समय में अपना नामांकन वापस ले लिया। उनके नामांकन वापस लेते ही आम आदमी पार्टी की सूरत ईस्ट सीट पर चुनाव लड़ने की दावेदारी समाप्त हो गई थी। इस मामले को लेकर दिल्ली के उप मुख्यमंत्री और AAP नेता मनीष सिसोदिया चुनाव आयोग के दफ्तर के बाहर धरने पर बैठ गए थे।

1 और 5 दिसम्बर को होगा मतदान
गौरतलब है कि गुजरात की 182 सदस्यीय विधानसभा के चुनाव के लिए मतदान 2 चरणों में 1 और 5 दिसंबर को होंगे। कच्छ में पहले चरण में मतदान होगा। कच्छ में 6 विधानसभा क्षेत्र हैं, जिनमें पाकिस्तान की सीमा से लगे अबडासा, भुज और रापर के अलावा मांडवी, अंजार और गांधीधाम शामिल हैं। भाजपा ने 2017 में यहां 4 सीटें जीती थीं, जबकि कांग्रेस ने रापर और अबडासा में जीत हासिल की थी।

इसे भी पढ़ें ...

बाटला हाउस में मारे गए आतंकवादियों को लेकर कांग्रेस पर मोदी ने साधा निशाना, बोले-सेना की ताकत पर किया संदेह

इस बार लिखकर दे रहा हूं.. गुजरात में 'आप' की सरकार बनेगी- केजरीवाल

 
Read more Articles on