Asianet News HindiAsianet News Hindi

नवसारी में 18 गांव के लोगों ने किया चुनाव बहिष्कार, बैनर पर लिखा- BJP नेता गांव में वोट मांगने न आएं

गुजरात मे चुनाव आते ही जनता भी अपनी मांगों को लेकर संजीदा हो गई है। गुजरात के नवसारी में 18 गांवों के लोगों ने वोटिंग का बहिष्कार किया है।

People of 18 villages boycott elections in Navsari at gujrat uja
Author
First Published Nov 8, 2022, 3:54 PM IST

नवसारी( Gujrat).गुजरात मे चुनाव की तारीखें नजदीक आ रही हैं। इसके साथ एक ओर जहां नेता और राजनीतिक दल एक्टिव हुए हैं वहीं दूसरी ओर जनता भी अपनी मांगों को लेकर संजीदा हो गई है। गुजरात के नवसारी में 18 गांवों के लोगों ने वोटिंग का बहिष्कार किया है। ग्रामीणों का कहना है कि कोरोना काल से पहले तक आंचली स्टेशन पर लोकल ट्रेनों का ठहराव होता था, लेकिन बाद में इसे बंद कर दिया गया।

नवसारी में 18 गांव के लोगों ने विधानसभा चुनाव के बहिष्कार का ऐलान किया है। इन गांव के लोग आंचली स्टेशन पर लोकल ट्रेनों के ठहराव की मांग कर रहे है। ग्रामीणों का कहना है कि कोरोना काल से पहले तक आंचली स्टेशन पर लोकल ट्रेनों का ठहराव होता था, लेकिन बाद में इसे बंद कर दिया गया। बार बार शिकायतों के बाद भी इन ट्रेनों को दोबारा से शुरू नहीं किया जा सका है। इसी के साथ ग्रामीणों ने साफ कर दिया है कि अब ट्रेन नहीं तो वोट नहीं।

बीजेपी के नेता वोट मांगने न आएं- ग्रामीण

रिपोर्टस के मुताबिक, ग्रामीणों ने बैनर में लिखा है कि जब तक ट्रेन ना रूके, इन गांवों में कोई बीजेपी का नेता वोट मांगने ना आए। ग्रामीणों के मुताबिक आंचली स्टेशन से लगते 18 गांव रेल सेवा के जरिए सीधा राजधानी से जुड़ते हैं। कोरोना काल के पहले तक यहां सभी तरह की लोकल ट्रेनों का ठहराव होता था। इससे यहां के लोग व्यापार वाणिज्य के अलावा अपने जरूरी कार्यों के लिए शहर आते जाते रहते थे।

शहर जाने में भी परेशानी
ग्रामीणों के मुताबिक कोरोना काल में ट्रेनों का ठहराव बंद हो गया था, तब से ही यहां के लोगों को शहर जाने में भारी परेशानी होती है। ग्रामीणों ने बताया कि इस समस्या को लेकर कई बार जनप्रतिनिधियों और रेलवे के अधिकारियों को शिकायत दी गई, लेकिन कोई समाधान नहीं निकला।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios