Asianet News HindiAsianet News Hindi

हिमाचल का चुनाव प्रचार खत्म, अंतिम दिन भाजपा और कांग्रेस ने दिखाया दम..साधा एकदूसरे पर निशाना

Himachal Pradesh Assembly Election 2022: भाजपा और कांग्रेस ने हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव में प्रचार के अंतिम दिन दम दिखाया। दोनों ही पार्टी के नेताओं ने एकदूसरे पर निशाना साधा। राज्य में 12 नवंबर को वोटिंग है। 

Himachal Pradesh Assembly Election 2022 bjp leader anurag thaku congress leader priyanka gandhi vadra slams each other apa
Author
First Published Nov 10, 2022, 5:50 PM IST

शिमला। Himachal Pradesh Assembly Election 2022: हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव में आज गुरुवार को प्रचार अंतिम दिन था। शाम पांच बजे के बाद सभी दलों का चुनाव प्रचार अभियान समाप्त हो गया। अब 12 नवंबर को वोटिंग होगी और परिणाम 8 दिसंबर को जारी होगा। चुनाव प्रचार के अंतिम दिन कांग्रेस और भाजपा ने एकदूसरे पर जमकर निशाना साधा। भाजपा जहां मिशन रिपिट पर काम कर रही है, वहीं कांग्रेस पांच साल बाद सत्ता में वापसी चाहती है। 

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर हमीरपुर से सांसद हैं। उन्होंने चुनाव प्रचार के अंतिम दिन कहा कि भाजपा ने ओल्ड पेंशन स्कीम पर एक समिति बना दी है, उसकी रिपोर्ट आने के बाद ही ठोस फैसला लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि बागियों से भाजपा को ज्यादा नुकसान नहीं होने वाला, क्योंकि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने राज्य में अच्छा काम किया है और जनता समझदार है कि उसे किसे चुनना है। मुझे भरोसा है कि लोग भाजपा को ही वोट देंगे। 

चुनाव प्रचार अभियान खत्म होने से पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने सिरमौर जिले के शिलाई विधानसभा सीट पर पार्टी प्रत्याशी हर्षवर्धन चौहान के समर्थन में प्रचार किया। प्रियंका ने अपने भाषण में लोगों से कहा कि 12 नवंबर को वोटिंग अपने और प्रदेश के भविष्य के लिए करें। भाजपा की आपके प्रति जिम्मेदारी नहीं है। वे सिर्फ महंगाई और बेरोजगारी बढ़ाने के लिए जिम्मेदार हैं। प्रियंका ने कहा कि कांग्रेस ने आजादी से अब तक स्थिर सरकार दी है। 

'कांग्रेस की रणनीति सफल रही है!' 
इससे पहले, छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने दावा किया कि भाजपा हिमाचल का चुनाव जीतने के लिए धनबल और शराब का इस्तेमाल कर रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी राज्य में हेलिकॉप्टर में पैसा और एंबुलेंस में शराब ढो रही है। बघेल ने यह भी कहा कि भाजपा को इससे बहुत ज्यादा फायदा नहीं होने वाला है। हिमाचल प्रदेश का वोटर पढ़ा-लिखा और जागरूक है। उन्होंने कहा कि राज्य में विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस की रणनीति अब तक सफल रही है। 

यह भी पढ़ें- 

काम नहीं आई जादूगरी! गहलोत के बाद कांग्रेस ने पायलट को दी गुजरात में बड़ी जिम्मेदारी, जानिए 4 दिन क्या करेंगे

पंजाब की तर्ज पर गुजरात में भी प्रयोग! जनता बताएगी कौन हो 'आप' का मुख्यमंत्री पद का चेहरा

बहुत हुआ.. इस बार चुनाव आयोग Corona पर भी पड़ेगा भारी, जानिए क्या लिया गजब फैसला

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios