Asianet News Hindi

अस्पताल में बेड पर आराम फरमाते दिखे कुत्ते; धड़ाधड़ वायरल हो रही है ये फोटो, जानिए आखिर क्यों?

अस्‍पताल की एक तस्‍वीर को वायरल करते हुए सोशल मीडिया यूजर दावा कर रहे हैं कि यह फोटो यूपी की है। तस्‍वीर में मरीजों के लिए बनाए गए बिस्‍तरों पर कुत्‍तों को आराम करते हुए देखा जा सकता है। हालांकि फैक्ट चेकिंग में तस्वीर की पूरी पोल खुल गई। 

dogs taking rest on bed in bihar hospital old pic shared name of up kpt
Author
New Delhi, First Published Feb 7, 2020, 5:47 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्‍ली. दिल्‍ली विधानसभा चुनाव के बीच सोशल मीडिया अस्पताल में कुत्ते के आराम फरमाते हुए एक तस्वीर वायरल हो रही है। फोटो के साथ दावा किया जा रहा है कि, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दिल्ली चुनाव में रैली में जुटे हुए हैं लेकिन वे अपने राज्य के अस्पतालों की हालात से नावाकिफ हैं। यहां अस्पताल में कुत्ते मरीजों के बेड पर आराम फरमा रहे हैं। पूरे अस्पताल पर कुत्तों ने कब्जा जमाया हुआ है। आइए जानते हैं कि इस तस्वीर से जुड़ा सच क्या है? 

अस्‍पताल की एक तस्‍वीर को वायरल करते हुए सोशल मीडिया यूजर दावा कर रहे हैं कि यह फोटो यूपी की है। तस्‍वीर में मरीजों के लिए बनाए गए बिस्‍तरों पर कुत्‍तों को आराम करते हुए देखा जा सकता है। हालांकि फैक्ट चेकिंग में तस्वीर की पूरी पोल खुल गई। 

वायरल पोस्‍ट क्‍या है? 

फेसबुक पेज आम आदमी जिंदाबाद ने 4 फरवरी को अस्‍पताल की तस्‍वीर को अपलोड करते हुए कैप्शन लिखा- ”योगी जी दिल्ली में बोली औऱ गोली की बात करने से पहले अपने अस्पतालों को देख लो। इसके साथ अस्पताल में कुत्तों को बिस्तर पर आराम फरमाते एक तस्वीर शेयर की गई। इस पोस्ट को लोग धड़ाधड़ शेयर करने लगे। असली पोस्ट आप यहां क्लिक कर देख सकते हैं। ”

इस पोस्‍ट पर अब तक 165 लोगों ने कमेंट किया है। जबकि 1300 से ज्‍यादा यूजर्स इसे शेयर कर चुके हैं। इसके अलावा इस तस्‍वीर को फेसबुक के अलावा ट्विटर, वॉट्सऐप और दूसरे सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म पर भी खूब वायरल किया जा रहा है।

क्या दावा किया जा रहा है? 

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 के मद्देनजर इस पोस्ट को शेयर किया जा रहा है। हाल में दिल्ली में चुनाव के बीच यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने बहुत सी रैली और सभाओं को संबोधित किया था। इस बीच आप पार्टी समर्थक इस तस्वीर को शेयर कर यूपी में अस्पतालों की हालत पर सवाल उठा रहे हैं। पर तस्वीर से जुड़ी सच्चाई कुछ और ही है। 

फैक्ट चेकिंग

तस्वीर वायरल होने के बाद हमने इसकी सत्यता जानने की कोशिश की। हमने फोटो को गूगल रिवर्स सर्च इमेज  में देखा कि ये तस्वीर यूपी की नहीं बल्कि बिहार की है। साथ ही तस्वीर के साथ दीवार पर एक बोर्ड टंगा हुआ नजर उस पर सदर अस्‍पताल, मुजफ्फरपुर लिखा हुआ है। मुजफ्फरपुर बिहार में है, जबकि यूपी में मुजफ्फरनगर है। वायरल तस्‍वीर बिहार के मुजफ्फरपुर की है जहां एक अस्पताल में कुत्तों ने आतंक मचाया हुआ था। इससे जुड़ी साल 2017 की कई रिपोर्ट भी मिलती है। बिहार के एक स्‍थानीय अखबार की वेबसाइट पर ओरिजनल तस्‍वीर 5 दिसंबर 2017 को पब्लिश एक खबर में मिली। मुजफ्फरपुर के सदर अस्‍पताल के सर्जिकल वार्ड में मरीजों के बेड पर आवारा कुत्तों का आतंक दिखाया गया।

वहीं सदर अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ. शैलेश प्रसाद सिंह ने तस्वीर को पुराना बताते हुए दावे को खारिज कर दिया। उन्होंने कहा, यह तीन साल पहले की फोटो है और अस्पताल की स्थिति अब ऐसी नहीं है।

ये निकला नतीजा- 

दिल्ली चुनाव के मद्देनजर वायरल की जा रही ये फोटो बिहार की है न कि यूपी की। वहीं ये तीन साल पुराना मामला है जिसे भ्रामक जानकारी के साथ साझा किया जा रहा है। मुजफ्फरपुर नाउ नाम के एक यूट्यूब चैनल ने भी इस घटना का वीडियो शेयर किया था। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios