Asianet News HindiAsianet News Hindi

Fake Checker : मासूम को तालिबान के आतंकियों ने उतारा था मौत के घाट ? देखें क्या है सच

चेहरे पर  मासूमियत और डॉल जैसी  दिखने वाली एक बच्ची की पिक्स लगातार इंटरनेट पर वायरल हो रही है। दावा किया जा रहा है किइस बच्ची को तालिबान के आंतिकयों ने मौत के घाट उतारा है।  वहीं हमने इस बच्ची और वायरल पिक को लेकर पड़ताल की है।  क्या है इस वायरल तस्वीर का सच जानते हैं। 
 

Fact Check of viral picture of Taliban punishing an innocent to death
Author
Bhopal, First Published Sep 14, 2021, 6:45 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

फैक चैकर डेस्क ।  बेहद खूबसूरत और मासूम दिखने वाली एक बच्ची की पिक्स लगातार सोशल मीडिया पर शेयर की जा रही है। इस फोटो के संबंध में कहा जा रहा है कि ये बच्ची तालिबान के आंतिकयों के हाथों मारी दी गई है। बच्ची की हालत देखकर पूरी दुनिया के लोगों में आक्रोश है वहीं इस संबंध में एक जानकारी सामने आई है। क्या है इस वायरल तस्वीर का सच जानते हैं। 

फोटो के साथ ऐसा ही एक कैप्शन लिखा है 
"My heart has broken into pieces what has this little angel done that she had to be sacrificed. Lanat to T*liban supporters and groups !!! #NoToTaliban," reads one such caption along with the photo.

Fact Check of viral picture of Taliban punishing an innocent to death

गूगल के अलग-अलग टूल और पिक्स को सर्च करने पर ये पता चला है कि ये तस्वीर 2019 में पाकिस्तान की विभिन्न न्यूज एजेंसी ने अपलोड की थी, दरअसल पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा में  एक 6 साल की बच्ची लुबना की मौत सांप के काटने की वजह से हो गई थी।  

मासूम की मौत के पीछे की कहानी 
रिवर्स इमेज सर्च टेक्नालॉजी का उपयोग करते हुए ये सच्चाई सामने आई है इसतस्वीर का तालिबान के आंतिकयों से कनेक्शन नहीं है। ये तस्वीर पाकिस्तान की है।  जांच में ये बात निकलकर सामने आी है कि  की पिछले कुछ महीनों में इस तस्वीर को अलग-अलग दावों के साथ कई बार इस्तेमाल किया गया है। सच्चाई ये है कि ये तस्वीर 2019 में पाकिस्तान के संघीय प्रशासित जनजातीय क्षेत्रों (FATA) में स्थानीय समाचार वेबसाइटों ने एक खबर के साथ प्रकाशित की थी।

 सांप के काटने से हुई थी लुबना की मौत
इन वेबसाइटों के अनुसार, ये बच्ची खैबर पख्तूनख्वा के आदिवासी इलाके में रहने वाली लुबना की है। लुबना को सांप ने काट लिया था, जिसके बाद उसे इलाज के लिए स्थानीय  अस्पताल ले जाया गया। लेकिन वहां एंटी पायजन इंजेक्शन उपलब्ध नहीं था।  इसके बाद अस्पताल के कर्मचारियों ने लड़की के परिवार को पेशावर ले जाने के लिए कहा। लुबना की पेशावर जाते समय रास्ते में मौत हो गई थी।

लड़की के पिता ने शिकायत की कि अस्पताल में सुविधाओं की कमी ने उसकी जान ले ली। उन्होंने यह भी आरोप लगाया था कि उन्हें बिना ऑक्सीजन किट के एम्बुलेंस दी गई थी, जिसके कारण पेशावर के रास्ते में बच्चे की मौत हो गई।

#JusticeForLubna ने पाकिस्तान सरकार को हिला दिया था
इस दुखद घटना ने पाकिस्तान को झकझोर कर रख दिया थी, उस समय पाकिस्तान में #JusticeForLubna ट्रेंड करने लगा था।  पाकिस्तान से समाचार रिपोर्टों के अनुसार, सरकार हरकत में आई और खैबर पख्तूनख्वा स्वास्थ्य विभाग ने चार डॉक्टरों को निलंबित कर दिया था।

Fact Check of viral picture of Taliban punishing an innocent to death

इसी फोटो को अब अफगानिस्तान की बच्ची बताकर उसे आतंकियों के हाथों मारे की बात कही जा रही है। ये बात सच है कि अफगानिस्तान में तालिबान लगातार कहर बरपा रहा है।  अफगानी लोग यहां से जल्द से जल्द निकलने की भी कोशिश कर रहे हैं, लेकिन  वास्तव में वायरल की जा रही इस तस्वीर का अफगानिस्तान से कोई लेना देना नहीं है। फैक चेकर में हमने ये तस्दीक की है कि इस तस्वीर को लेकर किया गया दावा गलत है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios